पूर्व कप्तान स्टीव वॉ ने बताया क्या होना चाहिए ऑस्ट्रेलिया का ओपनिंग कॉम्बिनेशन | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

पूर्व कप्तान स्टीव वॉ ने बताया क्या होना चाहिए ऑस्ट्रेलिया का ओपनिंग कॉम्बिनेशन 

पूर्व कप्तान स्टीव वॉ ने बताया क्या होना चाहिए ऑस्ट्रेलिया का ओपनिंग कॉम्बिनेशन

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ चाहते है, कि आगामी भारत दौरे पर खेली जाने वाली 4 टेस्ट मैचो की सीरीज के दौरान डेविड वार्नर के साथ रेनशॉ की जगह शॉन मार्श पारी की शुरुआत करे.

वॉ का कहना है कि उपमहाद्वीप में मार्श का रिकॉर्ड और उनका अनुभव उन्हें रेनशॉ से ज्यादा महत्व देता हैं. पिछले नवम्बर में साउथ अफ्रीका के विरुद्ध एडिलेड से मैदान से रेनशॉ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया है, जबकि हाल में सिडनी टेस्ट में पाकिस्तान के विरुद्ध रेनशॉ ने टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला शतक भी लगाया था.भारत को मिला मिचेल स्टार्क, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले ही टेस्ट में मिल सकती है भारतीय टीम में जगह

क्रिकेट.कॉम.एयू से बात करते हुए स्टीव वॉ ने कहा,

“रेनशॉ ने ऑस्ट्रेलिया में बेहद अच्छे से पारी की शुरुआत किया, लेकिन मैं तो भारत के विरुद्ध में मार्श से पारी की शुरुआत करवाना चाहुगा.”

स्टेव वॉ ने आगे कहा, 

“चोटिल होने के पहले पारी मार्श पारी की शुरुआत करते थे और उनका रिकॉर्ड बहुत अच्छा रहा था. मेरा मानना है, कि वह वापसी पारी की शुरुआत करने को तैयार हैं. वह भारत की परिस्थितियों को अच्छी तरह जानते हैं, क्योंकि वह यहाँ पिछले कई वर्षो से लगातार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलते रहे हैं. इससे टीम में थोड़ा अधिक अनुभव आएगा. मैं चाहूँगा, कि डेविड वार्नर के साथ शॉन मार्श पारी की शुरुआत करे.”

साउथ अफ्रीका के विरुद्ध वाका के मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट के दौरान से मार्श की अंगुली में फ्रैक्चर की समस्या से जूझ रहे थे. भारत के विरुद्ध चोट से पूरी तरह उभरकर वापसी करेगे. उपमहाद्वीप में शॉन मार्श में का रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा हैं. उपमहाद्वीप में मार्श ने 78.6 औसत से रन बनाये हैं. इस दौरान मार्श ने अपने पदार्पण टेस्ट सहित कुल 2 शतक भी लगायें हैं.मिचेल मार्श का यह कैच देखने के बाद आप खुद को ताली बजाने से नहीं रोक पायेंगे, देखे विडियो

स्टीव वॉ ने कहा,

“टीम में उनकी वापसी से मैं ख़ुश हूँ. मुझे लगता है इन परिस्थितियो में वह ख़ास कर सकते हैं. उपमहाद्वीप में उनका रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा हैं, खासतौर पर श्रीलंका के विरुद्ध पिछले 2 दौरे पर.”

Related posts