"जारवो ने मैदान पर घूस कर इंग्लैंड के खिलाड़ी को धक्का मारा उस पर किसी ने कुछ नहीं कहा" रवि शास्त्री के बचाव में उतरा पाकिस्तान, इंग्लैंड को लगाई फटकार 1

जब से भारत और इंग्लैंड के बीच मैनचेस्टर टेस्ट रद्द हुआ है तब से भारतीय टीम के मौजूदा हेड कोच रवि शास्त्री को लगातार आलोचनाएं झेलनी पड़ रही हैं, क्योंकि टेस्ट सीरीज के पांचवें मैच से पहले भारत के सहयोगी स्टाफ में 4 लोग कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए। कई लोगों ने भारत खेमे में इस कोविड के प्रकोप के लिए शास्त्री के बुक लॉन्च इवेंट को दोषी माना। हालांकि पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर सलमान बट की राय इससे एकदम जुदा है और वे भारतीय टीम के कोच के खिलाफ हो रही आलोचनाओं से सहमत नहीं हैं। बट के मुताबिक, शास्त्री को इस बात के लिए जिम्मेदार ठहराना सही नहीं है।

इंग्लैंड टीम सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने से रही दूर

"जारवो ने मैदान पर घूस कर इंग्लैंड के खिलाड़ी को धक्का मारा उस पर किसी ने कुछ नहीं कहा" रवि शास्त्री के बचाव में उतरा पाकिस्तान, इंग्लैंड को लगाई फटकार 2

सलमान बट का मानना है कि इंग्लैंड में कोरोना को लेकर कोई भी रोक टोक नहीं है। कोई भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहा है और मैच के दौरान स्टेडियम लोगों से भरा हुआ था। बट ने कहा कि, 

“दोनों टीमें हाई-प्रोटेक्शन जोन में मौजूद थीं। जहां तक ​​बाकी इंग्लैंड टीम की बात है, तो हमने देखा कि भीड़ में किसी ने मास्क नहीं पहना हुआ था। सभी बिना सोशल डिस्टेंसिंग के एक-दूसरे के बगल में बैठे थे। वहां सब कुछ खुला है और उस मोर्चे पर शास्त्री सही हैं।” 

शास्त्री ने भी हाल ही में खुद का बचाव करते हुए कहा था कि, 

“पूरा इंग्लैंड इस समय खुला हुआ है, इसलिए कोरोना का मामला सामने आया। मेरे बुक लॉन्च इवेंट से कोरोना मामलों पर कोई असर नहीं पड़ा है। पूरा इंग्लैंड इस वक्त ओपन है, इसलिए पहले टेस्ट मैच से ही कुछ भी हो सकता था।”

 इंग्लैंड को ठहराया जाना चाहिए दोषी

"जारवो ने मैदान पर घूस कर इंग्लैंड के खिलाड़ी को धक्का मारा उस पर किसी ने कुछ नहीं कहा" रवि शास्त्री के बचाव में उतरा पाकिस्तान, इंग्लैंड को लगाई फटकार 3

बट ने यहां इंग्लैंड टीम के सुरक्षा मैनेजमेंट पर भी सवाल उठाया और जार्वो का उदाहरण देते हुए सलमान बट ने कहा कि,

“पूरे इंग्लैंड में कोरोना प्रोटोकॉल को लेकर छूट दी गई है और इसलिए ही भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज सख्त बायो बबल में नहीं खेली गई। हमने देखा कि इंग्लिश फैन जार्वो ने पूरी टेस्ट सीरीज में तीन बार खेल में बाधा पहुंचाई। जब कड़ी सुरक्षा के बाद भी जार्वो बीच मैदान में घुस गया और जॉनी बेयरस्टो से भिड़ गया, तब उस समय किसी भी व्यक्ति ने उस पर सवाल नहीं उठाया। अगर किसी एशियाई देश में ऐसा होता, तो इंग्लैंड को परेशानी होती और दूसरे देश भी इसके बारे में बात करते। क्योंकि यह इंग्लैंड में हुआ है, तो उस हिसाब से यह कोई समस्या नहीं है।” 

One reply on ““जारवो ने मैदान पर घूस कर इंग्लैंड के खिलाड़ी को धक्का मारा उस पर किसी ने कुछ नहीं कहा” रवि शास्त्री के बचाव में उतरा पाकिस्तान, इंग्लैंड को लगाई फटकार”

Comments are closed.