in ,

भारत देश में आईपीएल से बड़ा घोटाला और कुछ नहीं : बिशन सिंह बेदी

जहां एक तरफ सभी भारतीय क्रिकेट प्रेमी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को पसंद करते हैं. वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी ने आजतक से बात करते हुए आईपीएल को घोटाले की लीग कहा हैं. साथ ही उन्होंने आईपीएल से टीम का चयन ना करने की भी बात कही हैं.

आईपीएल से बड़ा भारत में कोई बड़ा घोटाला नहीं


भारतीय टीम के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी ने आजतक से बात करते हुए अपने बयान में कहा, 
“मैं आईपीएल के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता हूं.

आईपीएल से बड़ा भारत में कोई बड़ा घोटाला नहीं है. यहां कोई भी नहीं जानता, कि आईपीएल का पैसा कहाँ से आता है और कहाँ जाता है. आईपीएल का दूसरा संस्करण दक्षिण अफ्रीका में हुआ, लाखों-करोड़ो वित्त मंत्री की अनुमति के बिना देश के बाहर पहुंचा दिया गया था.”

आईपीएल से ना हो टीम का चयन 

बिशन सिंह बेदी ने आजतक से बात करते हुए आगे अपने बयान में कहा, “मुझे नहीं लगता, कि भारतीय टीम में चयन का पैमान आईपीएल को होना चाहिए, किसी भी खिलाड़ी को आईपीएल के प्रदर्शन के लिहाज से भारतीय टीम में जगह नहीं मिलनी चाहिए. 

स्थानीय टी-20 टूर्नामेंट के आधार पर भारत की टी-20 टीम का चयन होना चाहिए. आईपीएल में कुछ खिलाड़ी महंगे बिकते हैं और कुछ कम आय में बिकते हैं. अब ऐसा में आप कैसे पता लगा सकते हैं, कि कम आय वाला खिलाड़ी प्रतिभावान नहीं हैं.  

आईपीएल का एकमात्र रास्ता सट्टेबाजी है. मुझे क्रिकेट में बहुत अनुभव है और आप आईपीएल के मैचों को देख बता सकते हैं, कि मैच में क्या हो रहा है. लेकिन हम सभी देखते हुए भी अंधे बने रहते हैं, क्योंकि यह हमारी पसंद है.”

विराट कोहली पर भारतीय टीम बहुत ज्यादा निर्भर 

बिशन सिंह बेदी ने आजतक से बात करते हुए आगे अपने बयान में कहा, “भारतीय टीम अच्छी है, लेकिन हम सभी जानते हैं, कि यही टीम इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका गई थी और वहां टीम का प्रदर्शन कमजोर था. हाँ, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पास स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर नहीं हैं, इसलिए भारतीय टीम इस बात का फायदा उठा सकती हैं. 

लेकिन हमारी टीम भी सिर्फ एक व्यक्ति पर ही निर्भर है जो विराट कोहली हैं, इसलिए इस बात पर भी ध्यान केंद्रित करना चाहिए, कि एक कप्तान और बल्लेबाज के नाते आप कोहली पर कितना दबाव डाल सकते हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *