न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम अधिक मजबूत : ब्रेट ली 1

नई दिल्ली, 20 सितम्बर (आईएएनएस)| आस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली का मानना है कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच होने वाली श्रृंखला में मेजबान भारत की टीम कहीं अधिक मजबूत है।

भारत और न्यूजीलैंड को तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलनी है जिसका पहला मैच 22 सितंबर से कानपुर में खेला जाएगा।

भारतीय टीम की प्रशंसा करते हुए ली ने टीम को संतुलित बताया है। ब्रेट ली ने कहा कि भारतीय टीम मजबूत बल्लेबाजी के कारण आंकड़ों के आधार पर किवी टीम से बेहतर दिखाई दे रही है।

यह भी पढ़े : जैफ थॉमसन की तरह है यह भारतीय गेंदबाज़ : ब्रेट ली

ब्रेट ली यहां दोनों देशों के बीच होने वाली श्रृंखला से पहले एक परिचर्चा में शामिल होने आए थे। उनके साथ इस परिचर्चा में भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव और पूर्व कलात्मक बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण भी शामिल थे।

कार्यक्रम से इतर ली ने आईएएनएस को दिए साक्षात्कार में कहा, “भारत न्यूजीलैंड के खिलाफ बेहद मजबूत है। भारत के पास बल्लेबाजी क्रम में काफी विकल्प हैं। उनका बल्लेबाजी क्रम मजबूत है। आपके पास शिखर धवन हैं जो मौका गंवाने के बाद अपने आप को साबित करने के लिए तैयार हैं।”

उन्होंने कहा, “उनके पास अच्छी गेंदबाजी आक्रमण भी है। वह संतुलित टीम हैं।”

कानपुर में भारत और न्यूजीलैंड के बीच होने वाली श्रृंखला का पहला टेस्ट मैच मेजबानों का 500वां टेस्ट मैच होगा। ली ने इस उपलब्धि के लिए भारत को बधाई दी है।

यह भी पढ़े : अगर भारत के पास ऐसा खिलाड़ी है, तो स्लेजिंग करने का कोई मतलब नहीं: ब्रेट ली

क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद कॉमेंट्री की दुनिया में कदम रखने वाले ली ने कहा,

“भारत के लिए 500वां टेस्ट मैच खेलना गर्व की बात है। न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला बेहद शानदार होने वाली है।”

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम अधिक मजबूत : ब्रेट ली 2

न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली श्रृंखला के बाद भारत को अपने घर में लंबा टेस्ट सत्र खेलना है जिसमें साल के अंत में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला, बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच और अगले साल आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला शामिल है।

एशेज श्रृंखला की तैयारी के लिए क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने हाल ही में इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज ग्राहम हिक को अपना बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया है। ली का मानना है कि उनका अनुभव भारत के खिलाफ भी टीम के काम आएगा।

उन्होंने कहा,

“हां यह बिल्कुल काम करेगा। यह आस्ट्रेलिया के लिए काम कर सकता है। मेरा मानना है कि काफी कुछ खिलाड़ियों पर निर्भर करता है। कोच, संरक्षक, सहयोगी स्टाफ का होना अच्छी बात है लेकिन मैदान पर खिलाड़ियों को ही खेलना होता है।”

ली ने भारत दौरे के लिए आस्ट्रेलियाई टीम को भी सलाह दी है। 2013 में आस्ट्रेलिया को भारत में 0-4 से हार का सामना करना पड़ा था।

ली ने कहा, “आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को गेंद पर काम करने और रिवर्स स्विंग पर सुधार करने की जरूरत है। हम सभी जानते हैं कि इसको करने के सही और गलत दोनों तरीके हैं। आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को समझना होगा कि भारत में रिवर्स स्विंग महत्वपूर्ण है।”

विश्व भर की तमाम टी-20 क्रिकेट लीगों में खेल चुके ली का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलने से आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को उपमहाद्वीप की परिस्थतियों की अच्छी समझ हो गई है।

उन्होंने कहा,

“आईपीएल में खेलने से निश्चित ही आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारतीय परिस्थतियों के आदि हो गए हैं। वह इसलिए क्योंकि आईपीएल में वह धीमी पिचों पर खेलते हैं।”

यह भी पढ़े : वीडियो : ब्रेट ली के टॉप 5 खतरनाक बॉउन्सर्स

उन्होंने कहा, “यह उसी तरह है कि आप जितनी क्रिकेट खेलोगे उतने बेहतर होगे। अगर वह यहां कई वर्षो से खेले नहीं होते तो इसका परिणाम पर असर पड़ता।”

sagar mhatre

I am sagar an ardent fan of cricket. I want to become a cricket writer, i always suport virat kohli and ms dhoni in every international match, but not in ipl in ipl i always chear for mumbai indian and...