संदीप पाटिल ने किया बड़ा खुलासा, धोनी के प्रसंशको के लिए बुरी खबर | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

संदीप पाटिल ने किया बड़ा खुलासा, धोनी के प्रसंशको के लिए बुरी खबर 

संदीप पाटिल ने किया बड़ा खुलासा, धोनी के प्रसंशको के लिए बुरी खबर

पूर्व भारतीय चयनकर्ता संदिप पाटिल ने कहा कि, जब महेंद्र सिंह धोनी टेस्ट क्रिकेट से रिटायर हुए, तब वनडे क्रिकेट में उनकी भविष्य की कप्तानी पर काफी सवाल उठे थे. पाटिल ने कहा, जब महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास की खबर आयी, तब हम सभी काफी चौक गये. लेकिन उनका फैसला सहीं था.

संदिप पाटिल ने कहा, “धोनी को वनडे की कप्तानी से हटाने का फैसला हम लेने का विचार कर रहे थे, लेकिन 2015 के विश्वकप को देखते हुए वो फैसला हम नहीं ले पाए. और आगें भी धोनी कप्तान बने रहें.”

उन्होंने कहा, “विश्वकप से पहले एक कप्तान को समय देना चाहिए, और इसलिए हम धोनी को नहीं हटा सके, और वो ठिक था.”

यह भी पढ़े: एक खिलाड़ी सब पे भारी, जिससे सचिन, धोनी और रैना सब हारे

महेंद्र सिंह धोनी अभी भी भारत के वनडे और टी ट्वेंटी में कप्तान हैं. पाटिल ने कहा,

“अॉस्ट्रेलिया का दौरा हमारे लिए काफी मुश्किल भरा था, और धोनी का वो फैसला हैरान करने वाला था. लेकिन भविष्य को देखते हुए वो फैसला अच्छा रहा. विराट कोहली को छोड़कर भारत का हर खिलाड़ी उस दौरे में असफल रहा था.

उस मुश्किल समय में सीनीयर खिलाड़ी को टीम के साथ रहना चाहिए था, और हम चयनकर्ता भी हैरान थे, कि धोनी ने ऐसा फैसला कैसे लिया.

लेकिन ये उनका फैसला था, और हर एक खिलाड़ी को उनके करियर के बारें में सोचने का हक हैं, इसमे चयनकर्ता कुछ नहीं कर सकते.”

संदीप पाटिल ने कहा, हमने अगली वनडे सीरीज के टीम के चयन के समय उनके इस विषय पर बात की थी, जिसमे उन्होंने कहा था कि, ये मेरा अंतिम फैसला हैं. मैनें टीम के बारें में सोचा हैं. मैं अपना बेस्ट नहीं दे पा रहा था, तो टीम पर बोझ क्यों बड़ाऊ. क्योंकि हर खिलाड़ी हमेशा खेलते ही रहना चाहता हैं.

यह भी पढ़े: ट्विटर प्रतिकिर्या: शहीद जवानों पर गंभीर के ट्वीट से भड़के फैन्स

पाटिल ने कहा, “हमने सचिन तेंदुलकर से भी उनके करियर पर बात की थी, और उन्होंने वनडे से संन्यास लिया था. उनसे हमने टेस्ट के भविष्य पर भी बात किया, लेकिन हमने कभी भी उनपर दबाव नहीं डाला.”

संदिप पाटिल ने कहा, “मैंनें सचिन से कहा, कि हम आपको बाहर करने वाले हैं, तभी सचिन ने कहा, मैं टेस्ट पर ध्यान देने की वजह से वनडे से संन्यास ले रहा हूं. उन्होंने तभी संजय जगदाले को कॉल किया जो उस वक्त बीसीसीआई के सचिव थे, और अपना फैसला सुनाया.”

सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास वेस्टइंडीज के खिलाफ 2013 में लिया.

संदिप पाटिल ने आखिर में कहा, “वीरेंद्र सहवाग भी उनको विदाई मैच ना देने की वजह से नाराज थे. लेकिन आपको खुद देखना चाहिए, हर खिलाड़ी को हम ऐसा मैच नहीं दे सकते.”

“किसी को दुख हुआ होगा वो ठिक हैं, लेकिन ये मेरा काम था, और मैनें मेरा काम अच्छे से किया.”

Related posts