ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ जुड़े इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने दी कंगारुओं को कड़ी चेतावनी | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ जुड़े इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने दी कंगारुओं को कड़ी चेतावनी 

ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ जुड़े इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने दी कंगारुओं को कड़ी चेतावनी

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने भारत के साथ होने वाली 4 टेस्ट मैचों की श्रृंखला में अपने स्पिन गेंदबाजों के लिए सलाहकार के रूप में इंग्लैंड के पूर्व स्पिन गेंदबाज मोंटी पनेसर और भारत के पूर्व खिलाड़ी श्रीधरन श्रीराम को चुना है. मोंटी पनेसर अभी सिडनी में क्लब क्रिकेट खेल रहे हैं. क्लब क्रिकेट का सत्र समाप्त होने के बाद वह आस्ट्रेलियाई टीम से जुड़ेंगे. गांगुली की टीम, कोहली की टीम, धोनी की टीम, मैं इन सब बातो को नहीं मानता : सौरव गांगुली

ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ जुड़े इस पूर्व भारतीय खिलाड़ी ने दी कंगारुओं को कड़ी चेतावनी 1

श्रीधरन श्रीराम ने पहले भी ऑस्ट्रेलिया की टीम के लिए कोच और सलाहकार की भूमिका निभाई है. जुलाई 2016 में हुयी श्रीलंका के साथ सीरीज और भारत में हुए टी20 वर्ल्ड कप में भी श्रीधरन श्रीराम ऑस्ट्रेलिया की टीम के साथ थे.

श्रीधरन श्रीराम टीम के कुछ खिलाड़ियों के साथ 29 जनवरी को दुबई के लिए रवाना होंगे जहां ऑस्ट्रेलिया टीम आईसीसी एकेडेमी में अभ्यास करेगी. श्रीधरन श्रीराम ऑस्ट्रेलिया टीम के साथ जुड़ने के लिए बहुत उत्सुक है.

भारत के लिए आठ वन डे मैच खेलने वाले श्रीधरन श्रीराम ने कहा, कि वह दोबारा आस्ट्रेलियाई टीम के साथ काम करने को तैयार हैं और वह ऑस्ट्रेलिया टीम के साथ काम करना अपने लिए बहुत सौभाग्य की बात समझते है.  दूसरे वनडे से पहले मैदान पर दिखाई दिये पूराने धोनी, देखें विडियो

श्रीधरन श्रीराम ने कहा,

“हमेशा की तरह, मैं इसे सम्मान की बात मानता हूं. मेरी कोशिश टीम के साथ काम करने और अपना योगदान देने की होगी.”

श्रीधरन श्रीराम ने आगे कहा,

“भारत का दौरा बहुत कठिन होगा और वहा हमारे खिलाड़ियों को माहौल में ढलने के लिए काफी परेशानी होगी, लेकिन मैं इस चुनौती के लिए तैयार हूं।”

ऑस्ट्रेलिया के प्रदर्शन मेनेजर, पैट होवार्ड, ने श्रीधरन श्रीराम के बारे में बोलते हुये कहा था,

“श्रीधरन ने कई दफा हमारे साथ काम किया है. वह इस समय दुबई में अंडर-16 टीम के साथ जुड़े हुए है . वह हमारे खिलाड़ियों को अच्छे से जानते हैं. उनके पास भारतीय हालात में खेलने का अच्छा खासा अनुभव है.” जावड़ेकर ने विद्यार्थियों के सामने रखी कोहली की मिसाल

Related posts