भारत बनाम साउथ अफ्रीका- किसी को कुछ भी सिद्ध करने की जरूरत नहीं: विराट कोहली

vinay mani tripathi / 21 February 2015

भारत के उप कप्तान विराट कोहली का मानना है, कि 22 फरवरी को मेलबर्न में भारत और साउथ अफ्रीका के बिच होने वाले मैच में लोगो को रोमांचक मैच देखने को मिल सकता है.

कोहली ने कहा इस मैच में जितने वाली टीम विश्वकप के क्वाटर फाइनल में पहुंचने का टिकेट कटा लेगी, कोहली ने कहा: “दोनों टीमें पूरी तरह से संतुलित है, इसलिए यह मैच उस दिन हम कैसा खेलते है, इस बात पर निर्भर करेगी.”

दोनों टीमें अपना पहला मैच जीतकर आमने-सामने आ रही है, एक तरफ जहाँ भारत पाकिस्तान को 76 रनों से हरा कर आ रहा है, तो साउथ अफ्रीका भी जिम्बाम्बे को 62 रनों से हरा कर भारत के सामने होगी.

उपकप्तान कोहली ने कप्तान एम.एस धोनी की जगह मीडिया को सम्बोधित करते हुये कहा, मेलबर्न की उछाल भरी और खुरदरी पिच दोनों टीमो के लिये बड़ी चुनौती पैदा करेगी.

उन्होंने कहा:

“साउथ अफ्रीका के पास जहाँ अच्छी गेंदबाजी है, वहीं हमारे पास अच्छी बल्लेबाजी क्रम इसलिए दोनों की भिडंत रोमांचक होगी, उन्होंने यह भी कहा मेलबर्न जैसे बड़े ग्राउंड पर बाउंड्री लगाना इतना आसान नहीं होगा, इसलिए यहाँ जितना आसान नहीं है, हमे अपने बल्लेबाजी में थोड़े और सुधर की जरूरत होगी.”

हालांकि भारतीय और कोहली के प्रसंसको के लिये अच्छी खबर यह है, कि यह पिच कोहली की सबसे पसंदीदा पिच है, अभी हाल ही में दिसम्बर में बार्डर-गवास्कर ट्राफी के दौरान कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यहाँ 169 और 54 रनों की पारी खेली थी, और साथ ही अभी पाकिस्तान के खिलाफ एडिलेड में कोहली 107 रनों की पारी के साथ आत्मविश्वास से भरे हुये है.

जैसा की अनुमान लगाया जा रहा है, कि इस मैच में लगभग 80,000 भारतीय दर्शक हो सकते है, कोहली ने कहा यह भारत के लिये बहुत ही अच्छी खबर है, इससे हमे और अधिक प्रेरणा और उतेजना मिलेगी.

कोहली ने कहा:

“मुझे दर्शको से भरी स्टेडियम में खेलना पसंद है, जब कोई बल्लेबाज अपने खेल से दर्शको को प्रसन्न करता है, तो यह उसके लिये बड़ी उपलब्धी होती है, लेकिन आप हमेशा इसमें सफल नहीं होते है, लेकिन अगर आप ऐसा कर लेते है, तो इससे लोगो को खुशी मिलती है, मुझे यहाँ खेलना काफी पसंद है, अगर हम यहाँ जीत जाते है, तो इससे हमे और अधिक आत्मविश्वास मिलेगा, लेकिन मै आगे के बारे में नहीं सोचता हमे इसे सिर्फ एक मैच की तरह देखना होगा, यहाँ हमे एक टीम की तरह खेलने की जरूरत है, किसी को कुछ भी सिद्ध करने की कोई जरूरत नहीं है.”

 

Related Topics