/

रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम के पास कटक में शर्मनाक रिकॉर्ड को बदलने की चुनौती..पिछले मैच में धोनी की हुई थी बेइज्जती

तीन मैचों की सीरीज को 2-1 से नाम करने के बाद भारतीय टीम अब टी20 सीरीज में भी फतह हासिल करने के लक्ष्य के साथ भुवनेश्वर पहुंच गयी है. भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैच की टी20 सीरीज का पहला मुकाबला कटक के बाराबाती स्टेडियम में खेला जाएगा.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

भारत और श्रीलंका के बीच सीरीज का पहला ही मैच बाराबती स्टेडियम में खेला जाना है. स्टेडियम की पूरी तरह से साज सज्जा कर दी गयी है. पिछली बार इस स्टेडियम में हुए मैच में दर्शकों ने उत्पाद मचाया था, जिससे प्रशासन की काफी किरकिरी हुई थी.

भारतीय टीम एक भी मैच नहीं जीती यहां-

रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम के पास कटक में शर्मनाक रिकॉर्ड को बदलने की चुनौती..पिछले मैच में धोनी की हुई थी बेइज्जती 1

टीम इंडिया को श्रीलंका के खिलाफ पहले मुकाबले में सावधान रहना होगा. क्योंकि इस मैदान पर टी-20 में टीम इंडिया की रिकॉर्ड बेहद खराब है. बाराबती स्टेडियम में भारतीय टीम ने सिर्फ एक टी-20 मैच खेला है. 2015 में द. अफ्रीका के खिलाफ खेले गए उस मैच में भारत को 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था.

दर्शकों ने मचाया था जम के उपद्रव

रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम के पास कटक में शर्मनाक रिकॉर्ड को बदलने की चुनौती..पिछले मैच में धोनी की हुई थी बेइज्जती 2

5 अक्टूबर 2015 को अफ्रीका ने टीम इंडिया को पहले 92 रनों पर ऑलआउट कर दिया, फिर 6 विकेट बाकी रहते जीत दर्ज कर ली थी. उस समय टीम इंडिया के इस खराब प्रदर्शन की वजह से स्टेडियम में मौजूद दर्शकों ने मैदान पर बोतलें फेंकनी शुरू कर दी थी. इसके बाद यहां के प्रशासन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बेइज्जती का सामना करना पड़ा था.

इस बार इस तरह की है सुरक्षा-व्यवस्था-

रोहित शर्मा की कप्तानी में भारतीय टीम के पास कटक में शर्मनाक रिकॉर्ड को बदलने की चुनौती..पिछले मैच में धोनी की हुई थी बेइज्जती 3

इस बार पिछली बार की तरह किसी भी घटना को रोकने के लिए प्रशासन पूरी तरह सतर्क है. सोमवार को पुलिस महानिदेशक डा. राजेंद्र प्रसाद शर्मा ने स्टेडियम का जायजा लिया. स्टेडियम में होने वाले तमाम आयोजन एवं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस कमिश्नर योगेश बहादुर खुरानिया और कटक डीसीपी अखिलेश्वर सिंह से भी उन्होंने चर्चा की.

पुलिस डीजी ने कहा कि बाराबती में मैच को शांतिपूर्ण तरीके से खत्म करने के लिए सभी कदम उठाए गए हैं. केवल पुलिस ही नहीं बल्कि सीसीटीवी कैमरे के जरिये स्टेडियम के अंदर व बाहर की गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी.