उमेश यादव

भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त ऑस्ट्रेलिया दौरे पर है। जहां, सिडनी टेस्ट मैच से पहले भारत के पांच खिलाड़ियों रोहित शर्मा, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत व नवदीप सैनी पर कोरोना वायरस के प्रोटोकॉल तोड़ने का आरोप लगाया गया है। अब टीम के एक सूत्र की मानें तो उनके साथ जानवरों जैसा बर्ताव किया जा रहा है।

भारतीय खिलाड़ियों के साथ हो रहा जानवरों जैसा बर्ताव

रोहित शर्मा

ऑस्ट्रेलिया में खेली जा रही बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के बीच अब टीम इंडिया की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। असल में नए साल पर रोहित शर्मा सहित पांच खिलाड़ियों पर प्रोटोकॉल्स तोड़ कर फैन के साथ होटल में डिनर करने का आरोप लगाया जा रहा है।

हालांकि भारतीय खिलाड़ियों ने दावा किया है कि उन्होंने नियमों के तहत ही डिनर किया है। इतना ही नहीं इसके बाद सभी खिलाड़ियों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव भी आई है। मगर अब टीम के एक सूत्र ने  बताया है कि उनके साथ जू के जानवरों जैसा बर्ताव किया जा रहा है। क्रिकबज के अनुसार, टीम इंडिया के सूत्र का कहना है,

”अगर आप स्टेडियम में फैंस (20 हजार लोगों) को आने की अनुमति देते हैं। उन्हें स्वतंत्रता से वहां मनोरंजन करने की अनुमति देते हैं और हमसे कहते हैं कि सीधे होटल जाओ और क्वारैंटाइन में रहो। खासकर तब जब हमारा कोरोना टेस्ट भी निगेटिव हो, तो यह जू में जानवरों को रखने जैसा बर्ताव है। हम नहीं चाहते, ऐसा हो।”

खिलाड़ी दे रहे हैं कुर्बानियां

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पहुंचे अधिकतर खिलाड़ी आईपीएल खेलकर पहुंचे हैं। इसका मतलब है कि वह पहले ही लंबे वक्त से अधिक वक्त बायो बबल में रह चुके हैं। इस तरह लंबे वक्त तक बायो बबल में रहना किसी भी व्यक्ति के लिए आसान नहीं है। इतना ही नहीं खिलाड़ी इस दौरे पर कुर्बानियां भी गे रहे हैं। इसके बावजूद ऑस्ट्रेलियाई मीडिया द्वारा भारतीय खिलाड़ियों के बारे में की जा रही टिप्पणियां निराशाजनक हैं। सूत्र ने आगे कहा,

“खिलाड़ी केवल खाने के लिए घर के भीतर गए क्योंकि बारिश शुरू हो गई। हमें समझ में नहीं आता कि उन पांच खिलाड़ियों को अलग-थलग करने की आवश्यकता है या उन्हें उड़ान पर अलग से बैठने के लिए कहा जाए, खासकर जब उन्होंने वायरस के लिए नकारात्मक परीक्षण किया है।

“हमारे खिलाड़ियों ने इस दौरे पर बहुत सारी कुर्बानियां दी हैं जैसे कि मोहम्मद सिराज अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए वापस जाने में सक्षम नहीं हैं। हमारे कुछ लड़के लगभग छह महीने से जैव बुलबुले के अंदर हैं और यह किसी के लिए भी आसान नहीं है।”

ऑस्ट्रेलियन नागरिकों की तरह करें नियमों का पालन

AUSvsIND: REPORTS: ऑस्ट्रेलिया में भारत के साथ हो रहा जानवरों जैसा बर्ताव, बिच में रद्द हो सकती है सीरीज! 1

डिनर के लिए गए 5 खिलाड़ियों को आवश्यक निर्देश के साथ प्रैक्टिस करने की अनुमति दी गई है। सूत्र ने आगे कहा,

“हम चाहते हैं कि हम भी हर ऑस्ट्रेलियन नागरिक की तरह ही हम भी नियमों का बराबरी से नियमों का पालन करें। इसलिए यदि दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति नहीं मिलती है, तभी कोई मतलब बनता है कि हमसे क्वारैंटाइन में रहने के लिए कहा जाए।”