श्रीलंका बनाम भारत: पहले टेस्ट में भारत की हार के ये है 5 कारण

SAGAR MHATRE / 15 August 2015

आज गॉले में खेले गये पहले टेस्ट में भारतीय टीम को 63 रन से हार मिली है. भारत ने ये मैच अपने हाथों में होने के बावजूद गवां दिया. और अब श्रीलंका तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से आगें है.

अब हम बता रहे है भारत की हार के पांच कारण:

1. दूसरी पारी में भारत की खराब बल्लेबाजी:

भारत को पहला टेस्ट जीतने के लिए 176 रनों का लक्ष्य मिला था. और पहली पारी में भारतीय बल्लेबाजों का प्रदर्शन देखते हुए ये लक्ष्य काफी आसान लग रहा था. लेकिन भारतीय बल्लेबाजों ने दूसरी पारी मैं इस लक्ष्य का पीछा करते हुए इतना लचर प्रदर्शन किया कि, भारतीय टीम सिर्फ 112 रन पर अॉल आउट हो गयी.

2. दूसरी पारी में खराब गेंदबाजी:

भारत ने पहली पारी में 192 रन की बढत ले ली थी. और एक वक्त भारत ये मैच पारी से जीतने के कगार पर था. दूसरी पारी में श्रीलंका का स्कोर तीसरे दिन के लंच तक 108 रन पर 5 विकेट था. लेकिन वहीं से मैच पलट गया और चांदीमल की 162 रन की शानदार पारी के बदौलत श्रीलंका ने भारत को 176 रनो का लक्ष्य दिया.

3. अति आत्मविश्वास:

अति आत्मविश्वास ऐसी चीज है, जो किसी के भी अंदर गया तो उसे ही नुकसान पहुंचाता है. और यहीं बात भारतीय टीम पर भी लागू होती है. दूसरी पारी में एक वक्त श्रीलंका का स्कोर 108 रन पर 5 विकेट था, लेकिन श्रीलंका 108 से 367 रनों तक पहुंचा, और ये सिर्फ अति आत्मविश्वास की वजह से हुआ.

4. रोहित और राहुल का खराब प्रदर्शन:

धवन, कोहली, साहा ने पहली पारी में अच्छी बल्लेबाजी की, और भारत का स्कोर 375 रन तक पहुंचाया. लेकिन इस मैच भारत की सबसे बडी कमजोरी भारत का टॉप अॉर्डर था. राहुल और रोहित दोनों बल्लेबाज दोनों पारियों में असफल रहे और कुछ भी योगदान नहीं दे पाए. ये दोनों के पास आखिरी मौका था, क्योंकि अगले मैच में विजय और पुजारा की वापसी हो सकती है.

5. चांदीमल और हेराथ का कमाल:

श्रीलंका ये मैच लगभग हारने ही वाला था, लेकिन बल्ले से चांदीमल और गेंद से हेराथ ने ऐसा कमाल किया, कि भारतीय टीम हैरान हो गयी. चंदिम्ल ने पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ शानदार साझेदारी बनाकर 162 रन की कमाल की पारी खेली. तो गेंद से हेरथ ने 7 विकेट लेकर भारतीय बल्लेबाजों की कमर तोड दी. और इन दोनों के बदौलत ही श्रीलंका को जीत मिली.

Related Topics