शमी, उमेश और इशांत ने बताया क्या है भारतीय गेंदबाजी की सफलता का राज | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

इंटरव्यूज

शमी, उमेश और इशांत ने बताया क्या है भारतीय गेंदबाजी की सफलता का राज 

शमी, उमेश और इशांत ने बताया क्या है भारतीय गेंदबाजी की सफलता का राज

भारत ने बांग्लादेश को इंदौर टेस्ट में शनिवार को पारी और 130 रन से हरा दिया। इसी के साथ टीम ने दो टेस्ट की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। भारतीय टीम की यह लगातार छठी जीत है। उसे पिछली हार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दिसंबर 2018 में पर्थ के मैदान पर मिली थी। भारत अपने सभी 6 मैच जीतकर आईसीसी चैम्पियनशिप में 300 पॉइंट के साथ शीर्ष पर है।

भारतीय गेंदबाज तथा बल्लेबाजों ने किया शानदार प्रदर्शन

आपको बता दें कि इस टेस्ट मैच में भारत ने पहली पारी 6 विकेट पर 493 रन बनाकर घोषित कर दी थी। जबकि बांग्लादेश की टीम पहली पारी में 150 और दूसरी पारी में 213 रनों पर ऑलआउट हो गई। मयंक अग्रवाल ने 243 रन की पारी खेलते हुए करियर के 8वें टेस्ट में दूसरा दोहरा शतक लगाया। इनके अलावा अजिंक्य रहाणे ने 86, चेतेश्वर पुजारा ने 54 और रविंद्र जडेजा ने नाबाद 60 रन की पारी खेली।

बांग्लादेश की ओर से सबसे ज्यादा अबु जायेद ने 4 विकेट लिए। भारत के लिए दोनों पारी में मोहम्मद शमी ने 7, रविचंद्रन अश्विन ने 5, उमेश यादव ने 4 और ईशांत शर्मा ने 3 विकेट लिए। बांग्लादेश के लिए मुशफिकुर रहीम ने 43-64 और लिटन दास ने 21-35 रन की पारी खेली।

मैच के बाद इंटरव्यू के लिए इशांत,शमी तथा उमेश को बुलाया गया जिसमें उन्होंने भारतीय टीम की गेंदबाजी की सफलता का राज भी बताया.

सबसे पहले इशांत ने कहा-

मैं उमेश तथा शमी से टीम के वरिष्ठ गेंदबाज के तौर पर कभी व्योहार नहीं करता.हम हमेशा एक दुसरे की सफलता का आनंद उठाते हैं.तथा अपने-अपने प्लान के बारे में एक दुसरे से विचार विमर्श करते रहते है

यह समझाना मुश्किल है की शमी ने कितनी शानदार गेंदबाजी की है. मैंने काफी खेला है, मैं 31 साल का हूं. मैं गेंदबाजी का आनंद ले रहा हूं, अलग-अलग विविधताएं आजमा रहा हूं। इशांत ने हस्ते हुए कहा कि शमी ने गुलाबी गेंद से खेला है, उनसे कुछ सुझाव मांगने की जरूरत है.

इशांत के बाद उमेश ने भी खोला टीम की सफलता का राज-

मैंने बचपन में अपने पिता से मजबूत होना सीखा। उन्होंने मुझे बहुत दौड़ाया। मैं अपने शरीर में ताकत बनाए रखने की कोशिश करता हूं। इससे पहले, नई गेंद पेसरों के लिए बहुत कुछ कर रही थी। हम अपनी ताकत जानते हैं। हम नई गेंद से विकेट लेने की कोशिश करते हैं और स्पिनरों के लिए खेल को आसान बनाते हैं।

मेरे बल्लेबाजी कोच और कप्तान मुझे अपनी बल्लेबाजी का आनंद लेने के लिए कहते हैं। कोहली ने मुझे साउथ आफ्रिका के खिलाफ आखिरी टेस्ट में तेज बल्लेबाजी करने के लिए कहा था । कप्तान तथा टीम की मुझसे जो अपेक्षाएं होंती हैं उसे पूरा करने की पूरी कोशिश करता हूं।

शमी ने कहा कि-

हम जितना थकेंगे, खेल में हमें उतना ही मजा आएगा। हम एक दूसरे मदद करते है। हम एक दूसरे की सफलता का आनंद लेने की कोशिश करते हैं। कुछ चीजें हैं जो मैं भी नहीं कह सकता। उनकी (उमेश) ताकत को देखते हुए, भारत के सभी ग्राउंड छोटे हैं । हम पर बल्लेबाजों के रूप में कोई प्रतिबंध नहीं है। टीम प्रबंधन ने हमें स्वतंत्रता दी है।

हम समझदारी से बल्लेबाजी करने की कोशिश करते हैं जब दूसरे छोर पर बल्लेबाज होता है। मुझे कप्तान और कोच द्वारा अधिकार दिया गया है। मैं ईशांत और उमेश के साथ भी गेंदबाजी करता हूं। यह दोनों गेंदबाज खेल को मेरे लिए आसान बनाते है। मई अपनी गेंदबाजी में हमेशा गेंद को सही लाईन तथा लेंथ पर डालने की कोशिश करता हूँ.

दूसरा टेस्ट होगा डे-नाईट

आपको बता दें कि सीरीज का दूसरा और आखिरी टेस्ट डे-नाइट होगा, जो कोलकाता के ईडन गार्डन्स में 22 नवंबर से खेला जाएगा। इस मैच में मुख्य अतिथि के रूप में पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी तथा बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भी उपस्थित रहेंगी.

Related posts

Leave a Reply