बीसीबी ने कहा बांग्लादेश महिला टीम से जुड़ी भारतीय कोचों की टीम नहीं जाएगी

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

बांग्लादेश के महिला भारतीय कोचों ने किया पाकिस्तान जाने से इंकार, बीसीबी ने कही ये बात 

बांग्लादेश के महिला भारतीय कोचों ने किया पाकिस्तान जाने से इंकार, बीसीबी ने कही ये बात

भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते बिलकुल भी सही नहीं है. जब से भारत सरकार ने जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया है. उसके बाद से तो रिश्ते और ज्यादा ख़राब होते जा रहे हैं. जिसके कारण भारत पाकिस्तान से किसी भी प्रकार का रिश्ता नहीं रखना चाहता है. इसी बीच बांग्लादेश महिला टीम से जुड़ी भारतीय कोचों की टीम ने पाकिस्तान जाने से मना किया है.

बांग्लादेश महिला टीम से जुड़ी भारतीय कोच नहीं जाएँगी पाकिस्तान

बांग्लादेश

हाल में श्रीलंका की पुरुष टीम पाकिस्तान दौरे पर गयी हुई है. जहाँ पर वो टी20 और एकदिवसीय सीरीज खेलने के लिए गये हुए हैं. हालाँकि इस सीरीज में श्रीलंका के मुख्य 10 खिलाड़ियों ने जाने से मना कर दिया था. अब जल्द ही बांग्लादेश की महिला टीम भी पाकिस्तान सीरीज खेलने जा रही है.

लेकिन उस दौरे पर बांग्लादेश की टीम से जुड़ी भारतीय कोचों की टीम ने पाकिस्तान जाने से मना कर दिया है. बांग्लादेश महिला टीम की मुख्य कोच अंजू जैन, असिस्टेंट कोच देविका पल्शिकर और ट्रेनर कविता पांडे पाकिस्तान दौरे पर टीम के साथ नहीं जाएगी.

अब बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने किया ऐलान

बांग्लादेश के महिला भारतीय कोचों ने किया पाकिस्तान जाने से इंकार, बीसीबी ने कही ये बात 1

इस मामले पर खुद बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने बोलते हुए कहा कि

” हमारी एक टीम उसी समय श्रीलंका दौरे पर भी जा रही है. इसलिए हमने फैसला लिया है की हम अपने भारतीय कोचो को पाकिस्तान के बजाय श्रीलंका में भेजेंगे. जिससे यात्रा में कोई बड़ी समस्या नहीं आयें.”

उन्होंने आगे कहा कि

” हम इसकी तैयारी पहले से कर रहे थे. इस सीरीज के पक्की होने से पहले हमने श्रीलंका की टीम के साथ एक सुरक्षा अधिकारी को भेजा है. जो इस सीरीज के दौरान वहां पर सुरक्षा के सभी इंतजाम को अच्छे से देखें.”

श्रीलंका टीम पर हुआ था 2009 में आतंकवादी हमला

बांग्लादेश के महिला भारतीय कोचों ने किया पाकिस्तान जाने से इंकार, बीसीबी ने कही ये बात 2

2009 में श्रीलंका टीम पाकिस्तान के दौरे पर गयी थी. उस समय उनकी टीम बस पर आंतकवादीयों ने हमला कर दिया था. जिसके बाद से पाकिस्तान जाने के लिए अन्तराष्ट्रीय स्तर की सभी बड़ी टीमों ने मना कर दिया है. जिसके कारण पाकिस्तान के देश में ना के बराबर अन्तराष्ट्रीय मैच खेले जातें हैं.

Related posts