अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा 

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा

अपने देश की सेवा करने का मन भला किसमें नही होता. सभी किसी न किसी तरीके से देश की सेवा करते है. लेकिन देश की सेना में शामिल होकर देश की रक्षा करना अपने आप में गर्व की बात है. भारत की सेना दुनिया की विशाल सेनाओं में से एक है. भारत में जवान दिन रात एक कर देश की रक्षा करते हैं. लेकिन आप को पता है कि कुछ भारतीय खिलाड़ी ऐसे हैं यदि वो क्रिकेटर न होते तो वो सेना में जवान होते. ये बात उन्होंने खुद कबूल की. इन खिलाड़ियों में किसी का सपना पूरा हुआ तो कोई अफ़सोस करता रह गया.

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा 1

सचिन तेंदुलकर-

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा 2

इंडियन क्रिकेट टीम के महान बल्‍लेबाज सचिन तेंदुलकर को 2010 में इंडियन एयर फोर्स में ग्रुप कैप्‍टन की उपाधि से नवाजा गया था. तब सचिन ने उस कार्यक्रम में कहा था कि, ”मैं भारतीय वायु सेना को सैल्यूट करता हूं. उसने इस पद के माध्यम से मुझे सम्मान दिया है. इस सम्मान का सपना मैं बचपन से देखा करता था. आखिरकार आज मेरा यह सपना पूरा हुआ. मैं चाहता हूं कि मेरे देश का हर युवक विश्व की सर्वश्रेष्ठ वायुसेना में शामिल होकर देश की सेवा में योगदान दे.

महेंद्र सिंह धोनी-

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा 3

टीम इंडिया के सीमित ओवरों के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी भी सेना से जुड़े हैं. धोनी को 2011 में प्रादेशिक सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल की उपाधि दी गई है. धोनी के मुताबिक, उन्‍हें बचपन से ही सेना की वर्दी पहनने का शौक था और उनका ये सपना सच भी हुआ.

कपिल देव-

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा 4

भारतीय क्रिकेट टीम के भूतपूर्व कप्‍तान कपिल देव भी प्रादेशिक सेना से जुड़े हुए हैं. कपिल को 2008 में लेफ्टिनेंट कर्नल पद की उपाधि दी गई थी. कपिल देव ने कहा था कि मै यदि क्रिकेटर न बनता तो निश्चित तौर पर एक सेना का जवान होता.

वीरेंद्र सहवाग-

अगर ये भारतीय खिलाड़ी न होते क्रिकेटर तो कर रहे होते आज दुश्मनों से सीमा की सुरक्षा 5

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा था कि मेरा भारतीय सेना में काम करने का बहुत मन था. मै बचपन में सैनिक बनने का सपना देखता था. और सैनिक की ड्रेस पहन कर घूमता था. हालांकि सहवाग का वर्दी पहनने का सपना अभी तक पूरा नही हुआ है.

Related posts