आईपीएल में फॉर्म तलाश रहे खिलाड़ियों के समर्थन में उतरे पूर्व भारतीय चयनकर्ता 1

चैंपियंस ट्रॉफी के लिए भारतीय टीम का चयन का चयन कर लिया गया हैं। 2 जून से इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड की मेजबानी में खेले जाने वाले आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के बीसीसीआई ने आईसीसी की कटऑफ डेट के 12 दिनों बाद टीम का चयन किया। भारतीय क्रिकेट चयनकर्ताओं ने इस भारतीय टीम में कोई कास बदलाव नहीं किए और उसी टीम को बरकरार रखा है, जो पिछले दिनों खेलती आ रही है।

वेंगसरकर ने भारतीय टीम पर जताया भरोसा 

भारतीय टीम के पूर्व चयनकर्ता दिलिप वेंगसरकर ने चैंपियंस ट्रॉफी के लिए चुनी गई भारतीय टीम पर पूरी तरह से भरोसा जताया है। वेंगसरकर ने माना, कि भारतीय टीम के खिलाड़ियों की आईपीएल की खराब फॉर्म चैंपियंस ट्रॉफी में कोई प्रभाव नहीं डालेगी और भारतीय टीम चैंपियंस ट्रॉफी का बचाव कर लेगी।ऋषभ पंत को चैंपियंस ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया में मौका नहीं दिए जाने पर, कोच ने लिया चयनकर्ताओं को आड़े हाथ

रैना और गंभीर पर वेंगसरकर की राय

आईपीएल में शानदार लय में चल रहे गौतम गंभीर और  सुरेश रैना को चैंपियंस ट्रॉफी के लिए भारतीय टीम में नहीं चुने जाने को लेकर दिलिप वेंगसरकर ने कहा कि “अगर आप देखोगे तो गंभीर और रैना आईपीएल में रन बना रहे हैं लेकिन मैं उनकी 50 ओवर की फॉर्म को नहीं जानता। इसके अलावा आप केवल 15 खिलाड़ी ही चुन सकते हैं।”

आईपीएल में फॉर्म तलाश रहे खिलाड़ियों के समर्थन में उतरे पूर्व भारतीय चयनकर्ता 2

आईपीएल की खराब फॉर्म का नहीं होगा असर

वहीं वेंगसरकर ने आईपीएल में केदार जाधव, एमएस धोनी, विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे की खराब फॉर्म को लेकर कहा कि “इसमें कोई चिंता की बात नहीं है। आईपीएल एक अलग तरह का फॉर्मेट है जहां आपको शुरूआत से ही आक्रमण करना होता है। और 50 ओवर की क्रिकेट में आपको लंबी पारी के लिए जमने का समय मिलता है। इन सभी के पास इतना समय होगा कि वो अपने आप को इससे उबार लेंगे।”2 साल बाद टीम इंडिया में जगह मिलते ही इस खिलाड़ी ने दे डाली चैंपियंस ट्रॉफी के लिए विपक्षी टीमों को कड़ी चेतावनी

ऋषभ को लगेगा अभी समय

दिलिप वेंगसरकर ने भारतीय क्रिकेट के युवा सितारें ऋषभ पंत को नहीं चुने जाने के सवाल को लेकर कहा कि “ऋषभ पंत के मामले में वैसे तो मैनें इनकी बल्लेबाजी अभी तक देखी नहीं है। लेकिन टी-20 और बड़ा फॉर्मेट अलग-अलग है।  वनडे क्रिकेट में आपको आपकी काबिलियत के हिसाब से गेंद को देखना होता है। ऐसे में थोड़ा इंतजार करें और देखे।”