विश्वकप (1992-2015) तक ऐसी रही है भारतीय टीम की जर्सी

भारत ने अभी हाल ही में विश्वकप 2015 के लिए अपनी जर्सी को प्रदर्शित किया है, जिसे पहन कर वो पाकिस्तान के खिलाफ वो विश्वकप का आगाज करेंगे. इस जर्सी की खासियत यह है, कि इसे कुछ खास मकशद के लिए बनाया गया है, इसे रीसाईकलबिन प्लास्टिक से तैयार किया गया है, जिसमे गर्मी का एहसास नहीं होता है, भारतीय टीम ने गहरे नील रंग से नील रंग तक की जर्सी अपनाई है, हर विश्वकप में भारतीय टीम की जर्सी लगभग नीली ही होती है, इसलिए भारतीय टीम को “मैन इन ब्लू” के नाम से भी जाना जाता है.

यहाँ पर भारतीय टीम की 1992 से लेकर 2015 तक की जर्सी पर एक नजर डाली जा रही है:

1992 विश्वकप:

1992 में पहली बार क्रिकेट में रंगीन कपड़े कोप मान्यता दी गयी थी, इस साल सभी टीम एक ही डिजाईन की जर्सी पहने हुए थी, लेकिन सबका रंग अलग-अलग था.इसमें कंधे से लेकर निचे तक लाल, सफेद, हरे और नील रंग की 4 पट्टीया खिची हुई थी, भारतीय टीम ने गहरे नीले रंग की जर्सी पहनी हुई थी.

1996 विश्वकप:

1992 की तरह ही 1996 में ही सभी देशो ने एक ही डिजाईन की जर्सी पहने हुए थी, लेकिन इस बार भारत हल्के नील रंग की जर्सी में था, जिसके बिच में पीले रंग की पट्टी थी और बिच में INDIA लिखा हुआ था, और सामने से कुछ सफेद और पिली सीधी लाइने खिची हुई थी.

1999 विश्वकप:

1999 विश्वकप के लिए भारत ने स्काई ब्लू रंग की जर्सी फनी, जिसके सामने से पीले रंग की पट्टी लगी हुई थी और पीछे उनका किट नंबर लिखा हुआ था, 1999 में पहली बार खिलाडियों की किट संख्या लिखी हुई आई.

2003 विश्वकप:

2003 में भारत ने अपनी जर्सी से पीले रंग को बाहर कर के दोनों किनारों पर काले रंग की पट्टी का इस्तेमाल किया, भारत ने सामने वाले हिस्से में तिरंगे के रंग का इस्तेमाल किया, जिसके बिच में INDIA लिखा था.

2007 विश्वकप:

2007 में भारतीय जर्सी को एक अलग अंदाज और रंग में बनाया गया, इसे एकदम हल्का नीला रखा गया, तिरंगे के रंग को दाहिने तरफ रखा गया, और सीने से थोडा उपर एक अलग फॉण्ट में INDIA लिखा हुआ था.

2011 विश्वकप:

2011 विश्वकप की जर्सी एक अलग ही लुक में नजर आ रही थी, इसे गहरे नील रंग का बनाया गया था, तिरंगे के रंगो को दोनों किनारों पर रखा गया था, और आरेंज कलर इसे एक अलग ही स्वरूप प्रदान कर रहा था,बाद में इसके शिखर पर 3 सितारे लगाये गये, जो 1983. 2011 विश्वकप और 2007 के टी-20 विश्वकप की जीत का साक्षी था.

2015 विश्वकप:

विश्वकप 2015 के लिए भारतीय जर्सी को 100% पालिस्टर से बनाया गया है, जिसे नीले रंग का रखा गया है, इसमें किसी भी प्रकार की कोई डिजाईनिंग नहीं की गयी है, इसके मध्य में ओरेंज कलर से INDIA लिखा हुआ है. और पीछे हर खिलाडी का किट नंबर लिखा हुआ है.

 

Related Topics