इंडिया लीजेंड्स को खिताब जीताने वाले यह 3 खिलाड़ी, भारतीय टीम में खेलने का रखते हैं दम 1
Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse

हाल ही में खेली गई रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में इंडियन लीजेंड्स के सभी खिलाड़ियो की तरफ से बेहतरीन खेल का प्रदर्शन देखने को मिला। इनमे सभी खिलाड़ी ऐसे थे जो क्रिकेट से काफी पहले संन्यास ले चुके हैं। हालांकि इस सीरीज के दौरान 3 खिलाड़ियो के प्रदर्शन को देखकर ऐसा भी लगा की वह टीम इंडिया के लिए और लम्बा खेल सकते थे। अपने इस लेख में हम आपको उन्हीं तीन खिलाड़ियो के प्रदर्शन के बारे में बताएंगे।

युवराज सिंह

इंडिया लीजेंड्स को खिताब जीताने वाले यह 3 खिलाड़ी, भारतीय टीम में खेलने का रखते हैं दम 2

रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज के फाइनल मैच में युवराज के बल्ले से शानदार पारी निकली जिसमें उन्होने 146.34  के स्ट्राइक रेट के साथ  60 रन बनाए। वहीं इस पुरी सीरीज में प्रदर्शन पर बात करे, तो युवराज ने  64.66 की औसत के साथ 7  मैचों में 194 रन बनाए जिसमें 2 अर्धशतकीय पारी शामिल थी।

इसके आलावा गेंदबाजी में उन्होने 4 विकेट भी झटके। इस शानदार प्रदर्शन के बाद यह जाहिर होता है कि युवराज में आज भी वही काबिलियत और फुर्ती हैं जो उनमें शुरूआती दौर में देखने को मिलता थी।

युवराज के अंतर्राष्ट्रीय करियर को देखें तो वह काफी शानदार रहा है। बाएं हाथ के इस खिलाड़ी ने अपने करियर में 58 टी-20, 304 वनडे और 40 टेस्ट मैच खेले है और कुछ ऐसे कारनामें भी किए जिनके लिए वह आज तक जा रहे है।

बता दें, टी-20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेज अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड भी युवराज के ही नाम है जो उन्होने वर्ष 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 विश्व कप के दौरान हासिल किया था।

इस मैच में युवराज ने महज़ 12 गेंदो में अपना अर्धशतक पुरा किया था। लेकिन इसी मैच में उन्होने अपने अर्धशतक के साथ-साथ एक ही ओवर में छ: छक्के लगाने का कारनामा भी किया था ऐसा करने वाले वह विश्व के दुसरे खिलाड़ी बन गए थे।

Prev1 of 3
Use your ← → (arrow) keys to browse