भारतीय टीम ने अफगानिस्तान मैच वाली ये तीन गलती दोहराई, तो करना पड़ सकता है

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारतीय टीम ने अफगानिस्तान मैच वाली ये तीन गलती दोहराई, तो करना पड़ सकता है वेस्टइंडीज से हार का सामना 

भारतीय टीम ने अफगानिस्तान मैच वाली ये तीन गलती दोहराई, तो करना पड़ सकता है वेस्टइंडीज से हार का सामना

30 मई से शुरू हो कर 14 जुलाई तक चलने वाले 45 दिन के इस टूर्नामेंट को इंग्लैंड और वेल्स मे खेला जा रहा है. अभी आधे से ज्यादा मैच खेले जा चुके है, सेमीफाइनल मे कौन सी टीमें खेलेंगी, इसका भी एक तरह से फैसला हो गया है. भारतीय टीम भी इस टूर्नामेंट मे आगे बढ़ते जा रही है पर भारतीय टीम के जरुरी है की वह अपने पिछले मैचों की गलती से सीख लेकर आगे बढे. यह तीन गलतियाँ भारत को हरा सकती है आगे के मैच.

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज को ज्यादा देर टिकना होगा मैदान पर

भारतीय टीम

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज हरदम टीम को मजबूती प्रदान करने वाला प्रदर्शन करते है, पर अफ़ग़ानिस्तान के खिलाफ यह दोनों सलामी बल्लेबाज कुछ ख़ास करके नहीं दिखा पाए.

शिखर धवन की जगह उतरे केएल राहुल के लिए तो माना जा सकता है की वह अभी इसके लिए नए है, पर रोहित शर्मा का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा. उन्होंने 10 गेंदों पर मात्र 1 रन बनाए और इसके बाद हिटमैन मुजीब की गेंद पर डायरेक्ट हिट हो गए.

मैच के शुरुआती समय मे हम गेंदों की फ़िक्र नहीं करते पर इसकी कमी हमे बाद मे खलती है, अफ़ग़ानिस्तान के खिलाफ केएल राहुल ने 53 गेंदों पर 30 रन बनाए और एक अनाडी वाला शॉट खेल कर पवेलियन लौट गए.

मध्यक्रम को लड़खड़ाती टीम को संभालना होगा

भारतीय टीम

कप्तान विराट कोहली ने 63 गेंदों पर 67 रन बनाए, इसके बाद पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपने विकेट की अहमियत नहीं समझ पाए. उन्होंने 52 गेंदे लेते हुए सिर्फ 28 रन बनाए. किसी भी टीम का मध्यक्रम उसकी बैकबोन होती है.

उनके साथ केएल राहुल की जगह पर चौथे नंबर पर उतरे विजयशंकर भी ज्यादा देर पिच पर टिक नहीं पाए. अफ़ग़ानिस्तान के मैच मे विराट कोहली के अलावा किसी का भी स्ट्राइक रेट सही नहीं रहा विराट का स्ट्राइक रेट था 106.3 इसके बाद धोनी और विजय यह तक पहुँच ही नहीं पाए.

डेथ ओवरों मे भारतीय टीम को बढ़ाना होगा अपना स्ट्राइक रेट

भारतीय टीम

धोनी के जाने के बाद भारतीय टीम की साँसें उपर निचे होने लगती है, धोनी के जाने के बाद आए केदार जाधव ने अपना स्ट्राइक रेट बढाया और 76 तक पहुचे.उनका साथ देने आए ऑल राउंडर हार्दिक पंड्या ने सबसे ज्यादा निराश किया.

आखिरी के ओवरों मे खिलाड़ी का ध्यान देना होना चाहिए बड़े शॉट्स खेलने पर ना की विकेट बचाने पर, क्योंकि उस समय हमारे पास सीमित ओवर या गेंदे होती है, ऐसे मे ज्यादा से जयादा बाउंड्री बनाने पर ध्यान देना चाहिए.

एक गलती विराट कोहली ने भी की उन्होंने टॉस जीतने के बाद गेंदबाजी वाली पिच पर बल्लेबाजी ली. मैच के दूसरे दौर मे देखने को मिल रहा था की अफ़ग़ानिस्तान की टीम को रन बनाने मे ज्यादा मुश्किलें नहीं हो रही थी.

Related posts