भारत के सबसे वरिष्ठ क्रिकेटर का आज सुबह निधन | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारत के सबसे वरिष्ठ क्रिकेटर का आज सुबह निधन 

भारत के सबसे वरिष्ठ क्रिकेटर का आज सुबह निधन


भारत के सबसे वरिष्ठ क्रिकेटर का आज सुबह बैंगलोर में 99 वर्ष की आयु में निधन.

बी. के. गरुदचार एक लम्बे आल-राउंडर थे, लेग ब्रेक और गुगली के मशहूर गरुदचार ने अपने करियर में 27 मैचों में 100 विकेट हासिल किये.

क्रिकेटनेक्स्ट की माने तो, मैसूर और होलकर के बीच खेले गए सेमिफिनल मैच में गरुदचार ने महान क्रिकेटर सैय्यद मुश्ताक अली की विकेट ली थी, यह मैच वर्ष 1946 में कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला गया था.

गरुदचार ने एक इंटरव्यू में कहा था :- मैं मैसूर टीम का कप्तान था, ये हमारे लिए बहुत भयानक समय था,  होलकर ने टॉस जीता, उन्होंने हमारे विरुद्ध 900 रन बना डाले, मैदान पर ये हमारे लिए खौफनाक समय था, जब से मैच ईडन गार्डन में शुरू  हुआ तब से हम गेंद के पीछे बहुत भागे.

लेखक से बात करते हुए गरुदचार ने मुश्ताक अली के बारे में कहा मैंने मुश्ताक अली को अपनी गेंद पर 10 से कम रनों पर कैच आउट किया, मुश्ताक का 2 रनों पर आउट होना काफी लोगो के लिया आश्चर्यजनक था.

गरुदचार ने 69 ओवेरों की गेंदबाजी में 301 रन देकर 4 विकेट हासिल किये, सलामी गेंदबाज़ उदयकर ने 205 रन देकर एक विकेट झटका, बी. फ्रैंक और अब्बास शाह दो गेंदबाजों ने 100 से अधिक रन लुटाए.

मैसूर ने पहली पारी में 190 रन बनाए, जिसमे गरुदचार ने 18 रनों का योगदान किया.

दूसरी पारी में गरुदचार ने नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए 164 रनों की शानदार पारी खेली, फ्रैंक और  मुर्थय ने 80 और 60 की पारी खेलकर अपने कप्तान का भरपूर साथ दिया. मैसूर ने दूसरी पारी में 509 रन बनाये.

गरुदचार उस दौर में क्रिकेट खेलते थे,  जब क्रिकेटरर्स में मनोरंजन और जूनून साफ़ देखा जाता था .     

Related posts

Leave a Reply