क्या इंजमाम की वजह से होता था टीम में इमाम उल हक का चयन

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

क्या इंजमाम की वजह से होता था टीम में इमाम उल हक का चयन? स्वयं इंजमाम ने तोड़ी इस पर चुप्पी 

क्या इंजमाम की वजह से होता था टीम में इमाम उल हक का चयन? स्वयं इंजमाम ने तोड़ी इस पर चुप्पी

बीते दिन पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक ने अपने पद से इस्तीफा देकर सभी को चौका दिया. विश्व कप के पाकिस्तान के खराब प्रदर्शन के बाद इंजमाम ने अपने पद से इस्तीफा दिया. इंग्लैंड और वेल्स में खेले गये वर्ल्ड कप में पाकिस्तान की टीम सरफराज अहमद की अगुवाई में पांचवें पायदान पर रही.

लम्बे समय से यह बात हमेशा से सुनने में आती है, कि इंजमाम उल हक के चयन समिति के मुखिया होने के चलते इमाम उल हक को पाकिस्तान टीम में मौका मिलता रहा. पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कई जानकार अपने बयानों में यह बात कई मर्तबा कह भी चुके है.

इमाम के चयन पर इंजमाम ने तोड़ी अपनी चुप्पी

विश्व कप के दौरान बासित अली और तनवीर अहमद ने तो इमाम उल हक को चाचा इंजमाम के चलते टीम में खेलने तक की बात मीडिया के सामने कह डाली थी. इंजमाम उल हक ने इस विवादित मुद्दे पर आख़िरकार अपनी चुप्पी तोड़ दी है. Espn क्रिकइंफो से बात करते हुए इंजमाम ने कहा,

”बहुत से लोगों को यह बात पता नहीं है, कि जब पहली बार इमाम उल हक को अंतर्राष्ट्रीय टीम में चयनित किया था तब उसके पीछे बैटिंग कोच ग्रांट फ्लावर का रहा था. ग्रांट फ्लावर ने उस समय मेरे पास आकर यह कहा था, कि इमाम को देखो वह घरेलू क्रिकेट में लगातार बड़े रन बना रहा है. उसके बाद हेड कोच मिकी आर्थर ने भी सिलेक्शन समिति से इमाम को टीम में शामिल करने की बात कही थी.” 

मैंने किया था सेलेक्ट करने से साफ इंकार

शोएब अख्तर

इंजमाम उल हक ने आगे अपने बयान में कहा,

 ”मैंने शुरू में इमाम का चयन करने से मना कर दिया था और यह फैसला टीम के अन्य चयनकर्ताओं पर छोड़ दिया था. मीडिया में जो बातें की जाती हैं, कि मेरी वजह से इमाम का चयन हुआ. मैंने उसी वक़्त इस मामले पर अपने हाथ खड़े कर लिए थे. टीम में कप्तान और कोच भी हैं, उनसे सवाल क्यों नहीं किये जाते?”

23 वर्षीय इमाम उल हक ने पाकिस्तान के लिए अभी तक कुल 36 वनडे, 10 टेस्ट और 1 ट्वेंटी-20 मैच खेला है. इस दौरान वह 483 टेस्ट, 1692 एकदिवसीय और 7 ट्वेंटी-२० रन बनाने में कामयाब रहे है.

Related posts