सचिन के बारे में टॉप-10 अज्ञात बाते जो आप में से किसी को पता न होंगी

SAGAR MHATRE / 24 April 2015

1.1987 विश्वकप में बॉल बॉय थे सचिन:


1987 विश्व कप में बॉल बॉय थे और सुनिल गावसकर ने उन्हें बाद में भारतीय ड्रेसिंग रुम में भी बुलाया था.
2. जब गुरु आचरेकर ने सचिन को डाटा था:


आचरेकर ने कहा था की अगर सचिन को न्यूज पेपर में आना है तो उन्हें खुद रन करने होंगे. एक बार आचरेकर ने सचिन को खुद की प्रैक्टिस छोडकर दुसरों के मैच देखने के लिए थप्पड़ मारा था और बोले थे की दुसरों के लिए तालिया बजाने से अच्छा ये सोचों की दूसरे लोग तुम्हारे लिए तालिया बजाऐ.
3.एक तेज गेंदबाज से कैसे बने बल्लेबाज:


सचिन एमआरएफ पेस ऐकडमी में तेज गेंदबाज बनने गये थे लेकिन डेनिस लिली ने उनको ऐसा करने से रोका था.
4.जब सचिन मुंबई रणजी टीम के प्रैक्टिस में नहीं आये:


वासू परांजपे ने सचिन को वेंगसरकर से मिलाया था जो उस वक्त भारतीय टीम के कप्तान थे, और कपिल देव ने सचिन को गेंदबाजी की थी और उन्हें मुंबई की टीम में लिया था लेकिन सचिन पहले तीन दिन प्रैक्टिस करने नहीं पहुंचे थे क्योंकि उनकी चित्रकला की परीक्षा थी.
5.नींद में चलते थे:


सचिन और गांगुली एमआरएफ पेस ऐकडमी में एक ही कमरें में सोते थे. और सचिन नींद में चलते थे उससे गांगुली बहुत डरते थे.
6.जब सचिन पहली बार अंजली से मिले थे तब अंजली रिपोर्टर थी:


जब अंजली सचिन के घर पहली बार गयी थी तब एक रिपोर्टर बनके गयी थी. तब सचिन ने कहा था की तुम एक लडकी हो और मेरे घर में कैसे आयी? तब उन दोनो ने एक चॉकलेट खाया था.
7.खेल से प्यार था:


जब सचिन को 10 हफ्तों का आराम करने को कहा था तब सचिन ने 6 हफ्तों में मैदान में वापसी की थी.
8.जब सचिन ने घर जानें के लिए ऑटो रिक्सा ली:

ये 2013 की बात है जब सचिन अपने दोस्त के घर प्रैक्टिस कर रहे थे तब घर आने के लिए सचिन ने ऑटो पकडी थी.
9.कमाल के इंसान:


ये बात सुनके आपके आखों में आसू आएंगे. चैन्नई में सचिन छोटे बच्चों से मिले और उसमे एक सचिन का बडा फैन था. और उसमे से एक को चलना नहीं आता था. क्या तुम मेरे साथ क्रीकेट खेलना चाहोगो? तब वो बच्चा अपने पांव पर खडा हो गया था.

Related Topics