आईपीएल-11 : करो या मरो मुकाबले में कोलकाता का सामना पंजाब से 1

इंदौर, 11 मई; दो बार की विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स शनिवार को होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब के सामने होगी। कोलकाता को लीग की दौड़ में बने रहने के लिए यह मैच हर हाल में जीतना होगा। अगर प्लेऑफ की दौड़ में बने रहने के लिए कोलकाता को इस मैच में जीत की दरकार है तो वहीं पंजाब की कोशिश इस मैच को जीतकर अंकतालिका में पहला स्थान हासिल करने की होगी।

दोनों टीमें इस मैच में हार के साथ आ रही हैं और अब जीत के रास्ते पर वापसी करने की जद्दोजहद करेंगी।

कोलकाता को पिछले मैच में मुंबई इंडियंस ने 102 रनों से करारी शिकस्त दी थी। पंजाब को राजस्थान रॉयल्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

पंजाब की ताकत इस सीजन में उसकी क्रिस गेल और लोकेश राहुल की सलामी जोड़ी रही है। दोनों ने टीम को कई दफा तूफानी शुरुआत दी है। पिछले मैच में हालांकि पंजाब का हर बल्लेबाज विफल हो गया था, लेकिन राहुल ने 70 गेंदों में 95 रन बनाते हुए टीम को जीत दिलाने के लिए संघर्ष किया था।

मध्यक्रम का भार करुण नायर ने संभाले रखा है जिसमें मार्कस स्टोइनिस ने उनका बखूबी साथ दिया है। मध्यक्रम में एक स्थान के लिए कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने तीन बल्लेबाजों का उपयोग किया है लेकिन सफलता नहीं मिली है। मनोज तिवारी, युवराज सिंह और एरॉन फिंच मौकों को भुना नहीं पाए हैं।

गेंदबाजी में अश्विन और अफगानिस्तान के मुजीब उर रहमान ने शानदार प्रदर्शन किया है और टीम को काफी मजबूत किया हैं। तेज गेंदबाजी में एंड्रयू टाई और मोहित शर्मा ने शानदार प्रदर्शन किया है।

आईपीएल-11 : करो या मरो मुकाबले में कोलकाता का सामना पंजाब से 2

कोलकाता को लीग में आगे जाने के लिए इस मैच में एकजुट होकर प्रदर्शन करने की जरूरत है। कोलकाता इस मैच में गलती करने का जोखिम नहीं उठा सकती।

सलामी बल्लेबाज क्रिस लिन का बल्ला चलना कोलकाता के लिए बेहद जरूरी है। कप्तान दिनेश कार्तिक, लिन के साथ सुनील नरेन या रोबिन उथप्पा में किसे पारी की शुरुआत करने भेजते हैं, यह मैच के दिन ही पता चलेगा।

लिन ने दोनों के साथ ही टीम को मजबूत शुरुआत प्रदान की है। कार्तिक का प्रदर्शन अभी तक अच्छा रहा है। नितीश राणा ने शुरुआत में अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन हाल ही में वह राह भटक गए हैं। उनका रन करना भी कोलकाता के लिए बेहद अहम है। इनके अलावा आंद्रे रसेल किसी भी टीम के लिए सिरदर्द साबित हो सकते हैं।

गेंदबाजी में कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नरेन की स्पिन तिगड़ी कोलकाता की ताकत है। तेज गेंदबाजी में टॉम कुरैन और रसेल पर भी अहम जिम्मेदारी है।

टीमें :

कोलकाता नाइट राइडर्स : दिनेश कार्तिक (कप्तान), सुनील नरेन, आंद्रे रसैल, क्रिस लिन, रोबिन उथप्पा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नितीश राणा, प्रसिद्ध कृष्णा, शिवम मावी, मिशेल जॉनसन, शुभम गिल, आर. विनय कुमार, रिंकु सिंह, कैमरन डेलपोर्ट, जेवोन सियरलेस, अपूर्व वानखेड़े, इशांक जग्गी और टॉम कुरान।

किंग्स इलेवन पंजाब : रविचंद्रन अश्विन (कप्तान), अक्षर पटेल, युवराज सिंह, करुण नायर, लोकेश राहुल, क्रिस गेल, डेविड मिलर, एरॉन फिंच, मार्कस स्टोइनिस, मयंक अग्रवाल, अंकित राजपूत, मनोज तिवारी, मोहित शर्मा, मुजीब उर रहमान, बरिंदर शरण, एंड्रयू टाई, अक्षदीप नाथ, प्रदीप साहू, मयंक डागर, मंजूर दार। 

Leave a comment