////

5 कारण जिसकी वजह से बीसीसीआई को नहीं कराना चाहिए आईपीएल 2020 का आयोजन

आईपीएल
Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse

विश्व इस समय कोरोना वायरस से जूझ रहा है. जिसके कारण लाखों लोग अब तक इस बीमारी से जूझ रहे हैं. जबकि लगभग 3.5 लाख से ज्यादा लोगो ने अपनी जान भी गँवा दिया है. जिसके कारण क्रिकेट जगत भी प्रभावित नजर आ रहा है. फ़िलहाल कोई मैच नहीं खेला जा रहा है.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

भारत में कोरोना वायरस का प्रभाव बढ़ता जा रहा है. जिसके कारण बीसीसीआई आईपीएल को लेकर संकट में पड़ गयी है. हालाँकि इस मुश्किल परिस्थितियों में भी बीसीसीआई लोगो की चिंता छोड़कर सिर्फ आईपीएल कराने को लेकर प्रयास करती हुई नजर आ रही है.

आज हम वो 5 वजह बताएँगे. जिसके कारण बीसीसीआई को सिर्फ लोगो की चिंता करनी चाहिए और आईपीएल का ध्यान अपने मन से पूरी तरह से निकाल देना चाहिए. जिससे भले ही कुछ और समय क्रिकेट ना खेला जाएँ लेकिन लोगो के स्वास्थ्य को लेकर कोई परेशानी नहीं आयें.

1. खिलाड़ियों में संक्रमण का खतरा

5 कारण जिसकी वजह से बीसीसीआई को नहीं कराना चाहिए आईपीएल 2020 का आयोजन 1

अभी आईपीएल शुरू हुआ तो उसमें लगभग 8 टीमें हिस्सा लेंगी. जिसमें कुल लगभग 200 से ज्यादा खिलाड़ी मौजूद हैं. जो फिर अलग-अलग समय पर मैदान पर उतरेंगे. जिसे खिलाड़ी के स्वास्थ्य को लेकर आयें दिन सवाल उठता हुआ नजर आ सकता है. जो संभावना है.

इतने खिलाड़ी जब आईपीएल 2020 में खेलते हुए नजर आयेंगे तो फिर कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को टालना बहुत ज्यादा मुश्किल हो जायेगा. यदि ऐसा हुआ तो कोई खिलाड़ी भी आईपीएल के दौरान कोरोना वायरस से प्रभावित होता हुआ नजर आ सकता है.

खिलाड़ियों के संक्रमण में आने के बाद आईपीएल अपने आप रुक जायेगा. इसीलिए पहले ही खिलाड़ियों के बारें में सोचते हुए बीसीसीआई को इस क्रिकेट लीग के बारें में सोचना चाहिए. जिससे दोनों के लिए एक बेहतर विकल्प निकाला जाएँ और मुश्किले कम नजर आयें.

Prev1 of 5
Use your ← → (arrow) keys to browse