कोलकाता नाइट राइडर्स
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

आईपीएल 2020 का 39वां मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच अबु धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में खेला गया। इस मैच में केकेआर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी केकेआर की टीम 8 विकेट के नुकसान पर 20 ओवर में सिर्फ 84 रन ही बोर्ड पर लगा सकी। ये स्कोर बहुत ही कम था। जबाव में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने सिर्फ 2 विकेट के नुकसान पर ही लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल कर लिया और केकेआर को 8 विकेट से मात दी।

इस हार के बावजूद केकेआर की टीम अभी भी टॉप-4 में बनी हुई है। लेकिन ये हार टीम के लिए बेहद निराशाजनक है। तो आइए इस आर्टिकल में आपको उन 3 कारणों के बारे में बताते हैं जो केकेआर की हार का मुख्य कारण बने।

    कोलकाता नाइट राइडर्स को 3 कारणों से मिली हार

1-लगातार फ्लॉप हो रहे ओपनर्स से कराई ओपनिंग

कोलकाता नाइट राइडर्स

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए अब तक ये आईपीएल सीजन ठीक-ठाक रहा है। टीम ने 10 मैच खेले हैं, जिसमें 5 में जीत व 5 में हार का सामना किया है। लेकिन इस सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ खेले गए मुकाबले में टीम को जैसी हार मिली है, वह वाकई टीम के लिए शर्मनाक है।

असल में इस सीजन में शुरुआती मैचों को छोड़ दिया जाए, तो फिर लगातार शुभमन गिल स्कोर नहीं कर पा रहे हैं। साथ ही राहुल त्रिपाठी ने एक मैच के अलावा दूसरे में अच्छा नहीं किया। इस फॉर्म को जानते हुए भी कप्तान इयोन मोर्गन ने ओपनिंग के लिए शुभमन गिल व राहुल त्रिपाठी को चुना।

KKRvsRCB: इन 3 कारणों से आरसीबी के हाथों कोलकाता नाइट राइडर्स को मिली शर्मनाक हार 1

इस सलामी जोड़ी ने एक बार फिर जल्दी विकेट गंवाए और सिर्फ 1-1 रन बनाकर आउट हो गए। किसी भी मैच में जब सलामी बल्लेबाज टीम को मजबूत शुरुआत नहीं दे पाते हैं, तो अधिकतर देखा जाता है की टीम के नीचे के बल्लेबाज दबाव के चलते स्कोर नहीं कर पाते हैं।

2- लॉकी फर्ग्यूसन से नहीं कराई पावर प्ले में गेंदबाजी

लॉकी फर्ग्यूसन

कोलकाता नाइट राइडर्स के पास पहले ही बोर्ड पर सिर्फ 84 रन थे। इस स्कोर को डिफेंड करना केकेआर के गेंदबाजों के लिए मुश्किल था। वहीं इसे और मुश्किल बना दिया कप्तान इयोन मोर्गन ने। असल में मोर्गन ने इस मैच में अपने गेंदबाजों का सही इस्तेमाल नहीं किया।

पिछले मैच में तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्यूसन ने टीम को अपनी शानदार गेंदबाजी से जीत दिलाई थी। मगर कप्तान इयोन मोर्गन ने पावर प्ले में इस गेंदबाज पर भरोसा नहीं जताया। जी हां, इस बात में कोई शक नहीं है कि इनफॉर्म गेंदबाज फर्ग्यूसन को यदि पावर प्ले में भेजा जाता, तो शायद स्कोर कुछ और हो सकता था।

लॉकी फर्ग्यूसन को सही से इस्तेमाल ना करना कप्तान मोर्गन की एक बड़ी गलती रही। जिसका खामियाजा कोलकाता नाइट राइडर्स को उठाना पड़ा। हालांकि अभी भी केकेआर की टीम के पास प्ले ऑफ के लिए क्वालिफाई करने का मौका बचा है और वह टॉप-4 में बरकरार है।

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse