आईपीएल: सौरव गांगुली ने पुणे में हिस्सेदारी के आरोप को किया दरकिनार | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

आईपीएल: सौरव गांगुली ने पुणे में हिस्सेदारी के आरोप को किया दरकिनार 

भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने आईपीएल टीम पुणे सुपरजायंटस में उनके शेयर होने के नीरज गुंडे के आरोप को झूठा करार दिया है. गांगुली ने कहा कि फुटबॉल क्लब एटलेटिको डे कोलकाता में उनके 5 फीसदी शेयर हैं. जिसके प्रमोटर नयी आईपीएल टीम पुणे फ्रैंचाइज़ी के भी हैं.

साथ ही गांगुली ने कहा कि उनका न्यू राइजिंग प्रमोटर प्राइवेट लिमिटेड के साथ कोई तालुकात नहीं है. वह पुणे सुपरजायंटस के प्रमोटर हैं न तो मुझे ये पता है और न ही उनके शेयरहोल्डिंग पैटर्न के बारे में मुझे कोई जानकारी है.

हाल ही में अभी बीसीसीआई ने जस्टिस शाह से गांगुली के बिज़नेस के बारे कोई जानकारी नहीं होने की बात कही थी. लेकिन जिस दिन दो नयी फ्रैंचाइज़ी आईपीएल के लिए बनी थी उस दिन बीसीसीआई के अध्यक्ष शशांक मनोहर ने गांगुली के हितों के टकराव में नहीं आने की बात कही थी.

गांगुली ने ईमेल के जरिये दिए अपने जवाब में लिखा है कि जो शिकायत उन्हें लेकर लोग कर रहे हैं वह पूरी तरह से बेबुनियाद है. मैं कैच 22 इन्फार्मेटिक्स में 6.67 फीसदी का पार्टनर हूं. साथ ही कोलकाता गेम्स एंड स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड में मेरी 75 फीसदी भागेदारी है. दूसरी भाषा कोलकाता गेम्स एंड स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड में 5 फीसदी हिस्सेदारी मेरी है. जबकि न्यू राइजिंग पुणे प्राइवेट लिमिटेड मेरी किसी भी तरह की हिस्सेदारी नहीं है.
वहीं बीसीसीआई की तरफ से रत्नाकर शेट्टी ने एल लिखित जवाब में कहा था कि वह गांगुली के बिज़नेस से अनभिज्ञ हैं. इसके बारे में वह खुद ही बता सकते हैं.


वहीं गुंडे ने कहा कि गांगुली आईपीएल की नयी टीम पुणे से अपने संबंधों के बारे सही से सफाई देने में असफल साबित हुए हैं. इस बारे में बीसीसीआई को अच्छे से पता है. क्योंकि टीमों के लिए जब बिड पड़ी होगी तो उसमें सबका नाम भी होगा.  

वहीं भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने कहा है कि गांगुली को सभी मीटिंगों में शामिल होने का अधिकार है. लेकिन जो भी निर्णय होगा उसमें गवर्निंग कौंसिल के बहुमत से ही होगा.

लेकिन गुंडे ने कहा कि बीसीसीआई गांगुली का बचाव कर रही है. उन्होंने गांगुली के आईपीएल गवर्निंग कौंसिल में शामिल होने पर सवालिया निशान लगाया है. वहीं कैब के अध्यक्ष गांगुली ने इसका खंडन करते हुए कहा कि वह तकनीकी बिड के खुलने के वक्त वहां मौजूद ही नहीं थे.

गांगुली कहते हैं कि जब बिड खोलने का दिन था तब वह लन्दन में थे. हालांकि वह उसी दिन दिल्ली पहुंचे थे लेकिन तब तक बिड खुल चुकी थी. शेट्टी ने भी गांगुली के देर से आने की बात का समर्थन किया है. लेकिन गुंडे किसी कि बात को मानने को तैयार नहीं हैं. 

Related posts

Leave a Reply