आईपीएल : तीन ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने महेंद्र सिंह धोनी की टीम को छोड़ने के बाद

Trending News

Blog Post

आईपीएल 2019

IPL 2019: महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खत्म हो रहा था इन 3 खिलाड़ियों का करियर, साथ छोड़ते ही बदली किस्मत 

IPL 2019: महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खत्म हो रहा था इन 3 खिलाड़ियों का करियर, साथ छोड़ते ही बदली किस्मत

आईपीएल ऐसा मंच है, जहाँ खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा को पुरे विश्व को दिखाने का मौका मिलता है. इस टूर्नामेंट में कई खिलाड़ी ऐसे हैं, जिन्होंने आईपीएल के करियर का शुरुआत जिस फ्रेंचाइजी के साथ किया वो उनके लिए उतना अच्छा नहीं रहा. जबकि अपनी फ्रेंचाइजी को बदलते ही उनका प्रदर्शन कुछ निखर कर सामने आया.

जी हां, हम बात बात आईपीएल के सबसे सफल टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के टीम की कर रहे हैं. वैसे तो कहा जाता है कि धोनी की टीम में हर खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करता है. लेकिन महेंद्र सिंह धोनी की टीम के तीन ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने धोनी की कप्तानी में कमाल नहीं किया, लेकिन दूसरे टीमो में जाने के बाद अपने प्रदर्शन से सबको चौका दिया.

# 3. क्रिस मॉरीस

साउथ अफ्रीका के गेंदबाज ऑलराउंडर क्रिस मॉरीस ने ओने आईपीएल करियर की शुरुआत 2013 में चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ किया. इस सीजन आईपीएल में क्रिस मॉरीस ने चेन्नई के लिए गेंदबाजी में अहम भूमिका पेश की. उन्होंने 16 मैचों में 14 विकेट लिए. 2014 में उन्होंने आईपीएल नहीं खेला. चेन्नई सुपरकिंग्स में ड्वेन ब्रावो और रविन्द्र जडेजा जैसे ऑल राउंडर खिलाड़ी के होने की वजह से प्लेयिंग इलेवन में साउथ अफ्रीका के ऑल राउंडर खिलाड़ी का जगह मिलना काफी मुश्किल था.

इसके बाद 2016 में वो दिल्ली कैपिटल्स की टीम से जुड़े. दिल्ली कैपिटल्स के लिए उन्होंने 32 मुकाबले खेले और 400 से ज्यादा रन और 39 विकेट अपने नाम किए हैं. 2015 में वो राजस्थान रॉयल्स के भी हिस्सा रहे.

# 2.विजय शंकर

आईपीएल से खुद को अलग रखते हुए विजय शंकर ने भारतीय टीम के लिए कुछ अच्छा प्रदर्शन किया और इस बार भारतीय वर्ल्डकप टीम के भी हिस्स्सा हैं. लेकिन बहुत कम लोगो को ही पता होगा कि विजय शंकर आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ से भी खेले हैं.

2015 के आईपीएल में विजय शंकर में चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम में शामिल थे. हालांकि चेन्नई की टीम में उनको एक बार ही मौका मिला. जिसमे उन्होंने एक ओवर गेंदबाजी किया और 19 रन खर्च किये.

इसके बाद उन्होंने 2016 में सनराईजर्स हैदराबाद की टीम से जुड़े और एसआरएच के लिए दो सीजन लगातार खेले. फिर 2018 में दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा रहे. पुनः फिर एक बार सनराइजर्स हैदराबाद की टीम से जुड़ गए हैं. दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेलते हुए उन्होंने 53.00 के औसत के साथ 12 इनिंग में 212 रन बनाये. वहीं सनराईजर्स हैदराबाद के लिए उन्होंने 12 मैचों में 240 रन बनाये हैं.

# 1. जॉर्ज बेली

2009 आईपीएल के दुसरे सीजन में जॉर्ज बेली को चेन्नई सुपरकिंग्स में शामिल किया गया. ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज जॉर्ज बेली को केवल तीन मुकाबलों में ही जगह मिली, क्योकि उस समय चेन्नई की टीम की बैटिंग काफी मजबूत थी. चेन्नई की टीम के लिए जॉर्ज बेली ने केवल 63 रन ही बना पाए.

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान जॉर्ज बेली को चेन्नई की टीम खुद को साबित करने का मौका नही मिला. उसके बाद 2014 में किंग्स इलेवन पंजाब की टीम से उस समय जुड़े जब पंजाब को एक कप्तान की जरुरत थी. इस बार जॉर्ज बेली ने अपने अनुभव को दिखाते हुए पंजाब को फाइनल तक ले गए. हालाँकि फ़ाइनल में कोलकाता के हाथो हार का सामना करना पड़ा. जॉर्ज बेली ने पंजाब के लिए लगातार दो सीजन खेला और 500 से ज्यादा रन भी बनाये.

आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया हो तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक इस खबर को सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें। साथ ही कोई सुझाव देना चाहे तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने हमारा पेज अब तक लाइक नहीं किया हो तो कृपया इसे जल्दी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट आप तक पहुंचा सके।

Related posts