आईपीएल फ्रेंचाइजी विदेशों में खेल सकती हैं मैच

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मुंबई इंडियंस, कनाडा तो चेन्नई सुपर किंग्स, सिंगापुर में खेल सकती है अपना मुकाबला 

मुंबई इंडियंस, कनाडा तो चेन्नई सुपर किंग्स, सिंगापुर में खेल सकती है अपना मुकाबला

मंगलवार को इंडियन प्रीमियर लीग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक हुई। इस बैठक में खेल को प्रमोट करने के लिए आईपीएल की फ्रैंचाइजियों को विदेशी धरती पर खेलने का प्रस्ताव रखा गया है। हालांकि अभी इस प्रस्ताव को पास हरी झंडी नहीं दिखाई गई है लेकिन नवंबर के आखिर में होने वाली बीसीसीआई की मीटिंग में इस प्रस्ताव पर फैसला आ सकता है। आपको बता दें, 12 सालों में पहली बार फ्रेंचाइजी को विदेशों में खेलने का यह अट्रैक्टिव प्रस्ताव रखा गया है।

विदेशों में मैच होने से होगी फैंस को आसानी

मुंबई इंडियंस, कनाडा तो चेन्नई सुपर किंग्स, सिंगापुर में खेल सकती है अपना मुकाबला 1

टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए एक कार्यकारी ने कहा, “इस देखने का बड़ा ही आसान नजरिया है। फिलहाल अगर आप कनाडा में हैं और मुंबई इंडियंस को खेलते देखना चाहते हैं तो आपको यहां आना पड़ेगा।

अगर आप कैरेबियाई हैं और शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स को खेलते देखना चाहते हैं तो आधी दुनिया तय करने के बाद भारत आना पड़ेगा, लेकिन अगर विदेश में फ्रैंचाइजियों के खेलने की अनुमति मिलती है तो उन फैन्स का सपना आसानी से पूरा हो सकेगा।”

मुंबई इंडियंस ने की थी पहल

आईपीएल

आईपीएल फ्रैंचाइजियों ने इसका आइडिया दिया था। मुंबई इंडियंस ने बीसीसीआई से इसे लेकर रिक्वेस्ट की थी। फ्रेंचाइजी कनाडा में कुछ खेल खेलना चाहती थी। केकेआर के कैरेबियाई दौरे की संभावना है क्योंकि शाहरुख खान ट्रिनबागो नाइट राइडर्स के मालिक हैं।

उसी तरह, चेन्नई सुपर किंग्स सिंगापुर जा सकता है जहां तमिलों की एक अच्छी आबादी है। सनराइजर्स हैदराबाद सिलिकॉन वैली में एक फैनबेस का निर्माण कर सकता है। आपको बता दें, आईपीएल आक्शन की तारीख का ऐलान कर दिया गया। आगामी सीजन के लिए 19 दिसंबर कोलकाता में किया जाएगा।

मिनी आईपीएल की मिल सकती है मंजूरी

इस अट्रैक्टिव प्रोजेक्ट के बारे में बात करते हुए एक अधिकारी ने कहा, “हम उस अ‌वधि में फ्रैंचाइजी को कोई छोटा दोस्ताना टूर्नमेंट खेलने की इजाजत दे सकते हैं, जब कोई मैच नहीं खेला जा रहा हो। हालांकि इसके लिए हमें आईसीसी के भविष्य के दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) को देखना होगा और इसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा।”

Related posts