/

तीसरे मैच से पहले शतरंज गेम में 2 बार भिड़े यजुवेन्द्र चहल और ईश सोढ़ी, जाने कौन बना दोनों बार विजेता

भारतीय टीम के उभरते हुए युवा स्पिन गेंदबाज युज्वेंद्र चहल अंतराष्ट्रीय क्रिकेट की दुनिया में आने से पहले एक शतरंज चैंपियन थे.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

वही न्यूजीलैंड टीम के स्पिन गेंदबाज ईश सोढी को भी शतरंज का बहुत ही शौक है. जिसके चलते वह अपना यह शौक भारतीय टीम के शतरंज चैंपियन कहे जाने वाले युज्वेंद्र चहल के साथ पूरा कर रहे है.

खेल चुके है दोनों आपस में शतरंज के दो गेम

तीसरे मैच से पहले शतरंज गेम में 2 बार भिड़े यजुवेन्द्र चहल और ईश सोढ़ी, जाने कौन बना दोनों बार विजेता 1

भारतीय टीम के उभरते हुए युवा स्पिन गेंदबाज युज्वेंद्र चहल व न्यूजीलैंड टीम के स्पिन गेंदबाज ईश सोढी दोनों लगभग एक ही तरह की स्पिन गेंदबाजी करते है और मैदान में दोनों ही गेंदबाज अपनी चतुराई भरी गेंदों से बल्लेबाजों को खूब    छकाते है.

युज्वेंद्र चहल और ईश सोढी दोनों ही शतरंज भी काफी अच्छा खेलते है. जिसके चलते दोनों आपस में दो गेम भी खेल चुके है. हालाँकि दोनों बार बाजी भारतीय टीम के युवा स्पिनर युज्वेंद्र चहल के हाथ ही लगी है.

ईश सोढी ने खुद ट्विट कर दी जानकारी 

न्यूजीलैंड टीम के स्पिन गेंदबाज ईश सोढी ने युज्वेंद्र चहल से अपने दो बार शतरंज खेलने की बात ट्विटर पर साझा करते हुए ट्विट कर लिखा, “रीमैच पहले ही हो चुका है…….ये कहना होगा, कि कुछ तो कारण है युज्वेंद्र चहल के चैंपियन होने का.”

 

क्षात्मक होने पर मजबूर कर दिया

तीसरे मैच से पहले शतरंज गेम में 2 बार भिड़े यजुवेन्द्र चहल और ईश सोढ़ी, जाने कौन बना दोनों बार विजेता 2

न्यूजीलैंड टीम के स्पिन गेंदबाज ईश सोढी ने युज्वेंद्र चहल के संग शतरंज खेलने को लेकर अपने एक बयान में कहा, “मैंने अभी तक युज्वेंद्र चहल के संग दो गेम खेले लिए हैं और जैसी मुझे उससे उम्मीद थी, उसने वैसा ही खेल दिखाया वह शतरंज खेलने के मामले में बहुत चतुर है. मैंने जब दोनों बार उसके संग खेला है, उसने मुझे दोनों बार रक्षात्मक होने पर मजबूर कर दिया था.”

अपनी गेंदबाजी से हूं खुश

तीसरे मैच से पहले शतरंज गेम में 2 बार भिड़े यजुवेन्द्र चहल और ईश सोढ़ी, जाने कौन बना दोनों बार विजेता 3

ईश सोढी ने आगे अपने बयान पर अपनी शानदार गेंदबाजी को लेकर कहा, “मैं अपनी गेंदबाजी से खुश हूं अच्छा लग रहा है, कि मैं टीम के लिए अपनी गेंदबाजी से योगदान दे पा रहा हूं. यह अब तक एक अच्छी सीरीज रही है. मैं हमेशा चाहता हूं कि मैं हर फॉर्मेट में टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करू, सीरीज के अंतिम मैच के लिए सभी खिलाड़ी बेहद उत्सुक है, क्योंकि हम जानते है, कि भारत में आकर भारत से  सीरीज जीतना एक बहुत बड़ी बात है.”

यहाँ देखे विराट का क्रिकेट सफर