नंबर चार को लेकर श्रेयस अय्यर ने अपने स्थान पर कही ये बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सीरीज जीत के बाद श्रेयस अय्यर का खुलासा, मैदान पर गुस्सा होकर रोहित ने लगाई थी सभी को फटकार 

सीरीज जीत के बाद श्रेयस अय्यर का खुलासा, मैदान पर गुस्सा होकर रोहित ने लगाई थी सभी को फटकार

भारत और बांग्लादेश के बीच खेली गई तीन मैचों की टी20 सीरीज के तीसरे और आखिरी टी20 मैच मेजबान भारत के लिए बहुत ही अहम था। इस मैच में भारत पर बांग्लादेश जैसी तुलना में कमजोर टीम से सीरीज खोने का खतरा था ऐसे में टीम की उम्मीदें कप्तान रोहित शर्मा और शिखर धवन पर कुछ ज्यादा थी।

भारत की जीत में श्रेयस का रहा शानदार योगदान

लेकिन ये दोनों ही बल्लेबाज इस बड़े और अहम मैच में खास नहीं कर सके और टीम को संकट में डाल चल पड़े। तो वहीं टीम को अच्छे स्कोर ले जाने की पूरी जिम्मेदारी युवा बल्लेबाजों के कंधो पर आ गई।

सीरीज जीत के बाद श्रेयस अय्यर का खुलासा, मैदान पर गुस्सा होकर रोहित ने लगाई थी सभी को फटकार 1

यहां पर भारत के युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने मौके का पूरा फायदा उठाते हुए नंबर 4 पर आकर कमाल की बल्लेबाजी की। अय्यर ने केवल 33 गेंद में 62 रन की पारी खेल बड़े स्कोर तक पहुंचाया।

नंबर चार को लेकर अय्यर ने कही ये बात

श्रेयस अय्यर ने जीत में अहम योगदान देने के बाद मैच में अपने प्रदर्शन को लेकर प्रतिक्रिया दी। अय्यर ने नंबर चार पर बल्लेबाजी को लेकर कहा कि” मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से, टीम मैनेजमेंट ने मुझे ये स्थान दिया। आप नंबर 4 पर रहेंगे। तो बस अपने आप को बैक किया और खुद पर विश्वास किया।”

सीरीज जीत के बाद श्रेयस अय्यर का खुलासा, मैदान पर गुस्सा होकर रोहित ने लगाई थी सभी को फटकार 2

अय्यर ने आगे कहा कि “ये नंबर 4 की स्थिति में बेंचमार्क सेट करने के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण कुछ सीरीज हैं, जिसे हम सभी प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं।”

नंबर चार को लेकर चल रही है कड़ी प्रतिस्पर्धा

भले ही कोहली और रोहित आउट हो जाएं, हमें खेल को खत्म करने और अंत तक बल्लेबाजी करने के लिए किसी की जरूरत है। ये नंबर 4 की भूमिका है। यही मैं आज दोहराने की कोशिश कर रहा था और इसने मेरे लिए वास्तव में अच्छी तरह से काम किया।”

अगले साल होने वाले विश्व कप में टीम मैनेजमेंट उनके नाम पर विचार कर रहा है जब ये सवाल अय्यर से किया गया तो उन्होंने कहा कि “हां ,जाहिर है कि टीम में काफी प्रतिस्पर्धा चल रही है। मुझे व्यक्तिगत रूप से लगता है कि मैं खुद से प्रतिस्पर्धा करता हूं मैं खुद कोे किसी के साथ न्याय नहीं करना चाहता या जब आप कहते हैं कि टीम में ये स्थान खाली पड़ा है।”

सपोर्टिंग स्टाफ करती है काफी मदद

मैं वास्तव में खुले दिमाग वाला हूं और किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता हूं। इसलिए मैं केवल मुश्किल परिस्थितियों में खुद को बैक करना पसंद करता हूं और आज की पारी ने दिखाया कि मैं दबाव में भी बल्लेबाजी कर सकता हूं।”

श्रेयस अय्यर ने सपोर्टिंग स्टाफ के द्वारा की जाने वाली मदद को लेकर कहा कि “सपोर्ट स्टाफ ने मुझे आजादी दी है। सिर्फ मुझे ही नहीं बल्कि सभी बल्लेबाजों को, कि आपको वहां जाने के दौरान उस इरादें की जरूरत है। और जब आप बल्लेबाजी कर रहे हों तो आपको बहुत सकारात्मक महसूस करना चाहिए। अगर गेंद पिच हो रही है, मेरा वो जोन है मैं खुद को नियंत्रित नहीं कर पा रहा हूं तो अपनी शैली के अनुसार बल्लेबाजी करूंगा।”

बांग्लादेश के खिलाफ अय्यर ने जीवनदान के बाद खेली अच्छी पारी

बांग्लादेश के खिलाफ शून्य के स्कोर पर कैच छोड़े जाने को लेकर कहा कि “ये मैच का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट था। जिस ओवर में मैंने तीन छक्के लगाए उसके बाद मैच तेजी के साथ हमारे पक्ष में आ गया। अन्यथा हम 155 या 150 तक रूक जाते।”

सीरीज जीत के बाद श्रेयस अय्यर का खुलासा, मैदान पर गुस्सा होकर रोहित ने लगाई थी सभी को फटकार 3

“इस विकेट पर उस टोटलर का बचाव करना वास्तव में मुश्किल होता है, जहां बल्लेबाजी के लिए बहुत सी और हो । मैं वास्तव में खुद को श्रेय देना चाहूंगा और केएल राहुल को भी, जिस तरह से हमने शुरुआत की।

रोहित की फटकार के बाद हमारे खेल में आयी जान

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन को लेकर श्रेयस अय्यर ने कहा कि” हम शुरू में थोड़ा सुस्त थे। मैं एक बार रोहित के पास जा रहा था और सर्कल के अंदर सभी खिलाड़ियों को वापस बुलाया और हमें जोरदार भाषण दिया, जो वास्तव में एक प्रेरक था और उसके बाद वास्तव में खेल को जीतने के लिए दृढ़ थे।”

सीरीज जीत के बाद श्रेयस अय्यर का खुलासा, मैदान पर गुस्सा होकर रोहित ने लगाई थी सभी को फटकार 4

दीपक चाहर की बेहतरीन गेंदबाजी को लेकर अय्यर ने कहा कि “मैं वास्तव में हैरान था जब हम उनके साथ शुरुआत नहीं की। मैं वास्तव में हमारे साथी से इस बारे में पूछ रहा था। उन्होंने महत्वपूर्ण समय पर दो विकेट हासिल किए। वो इतने सालों से खेल रहे हैं। उन्होंने अनुभव हासिल किया है। मुझे लगता है कि वो बहुत ही आत्वमिश्वास से लबरेज हैं। वर्तमान में वो मुख्य गेंदबाजों में से एक हैं।”

Related posts