श्रेयस अय्यर की बल्लेबाजी सुधार को लेकर उनके पिता का खुलासा

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

अंडर-16 के दौरान श्रेयस अय्यर के पिता को लगा हो गया है उनका ब्रेकअप, फिर निकाला ये तरीका 

अंडर-16 के दौरान श्रेयस अय्यर के पिता को लगा हो गया है उनका ब्रेकअप, फिर निकाला ये तरीका

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज श्रेयस अय्यर आज भारतीय टीम में अपना खास स्थान बना चुके हैं। भारतीय क्रिकेट टीम में श्रेयस अय्यर ने वापसी करने के बाद पिछले कुछ महीनों में बहुत ही जबरदस्त प्रदर्शन किया है। अय्यर ने टी20 क्रिकेट के साथ ही वनडे क्रिकेट में कमाल की बल्लेबाजी करते हुए अपनी जगह को सुरक्षित कर लिया है।

श्रेयस अय्यर अंडर-16 के भटक गए थे दौरान अपने रास्ते से

भारतीय टीम पिछले करीब 3 साल से ज्यादा समय से नंबर चार बल्लेबाजी क्रम को लेकर लगातार संघर्ष कर रही थी। इस बल्लेबाजी क्रम पर कई बल्लेबाजों को अजमाया लेकिन जो विश्वास श्रेयस अय्यर ने जगाया वैसा दूसरा कोई नहीं जगा सका था। आज अय्यर ने इस स्थान पर चिंता को दूर कर दिया है।

अंडर-16 के दौरान श्रेयस अय्यर के पिता को लगा हो गया है उनका ब्रेकअप, फिर निकाला ये तरीका 1

लेकिन आज जिस तरह की बल्लेबाजी कर रहे हैं वैसा अय्यर अंडर-16 में मुंबई टीम में खेलने के दौरान प्रतिभा के बाद भी नहीं कर सके थे। अय्यर अंडर-16 के दौरान अचानक से अपने रास्ते से भटक गए जिसके बाद उनके पिता ने इस खराब दौर से निकाला। श्रेयस के पिता ने इसको लेकर खुलासा किया।

श्रेयस अय्यर के पिता ने किया खुलासा

श्रेयस अय्यर के पिता संतोष अय्यर ने क्रिकबज के साथ बात करते हुए कहा कि “जब श्रेयस चार साल का था तब हमने घर में प्लास्टिक गेंद से क्रिकेट खेला। फिर भी वो गेंद को इस तरह से लपक रहा था जिससे मुझे यकिन नहीं हो रहा था कि लड़के में असली प्रतिभा छिपी है।”

अंडर-16 के दौरान श्रेयस अय्यर के पिता को लगा हो गया है उनका ब्रेकअप, फिर निकाला ये तरीका 2

इसलिए हमने ये सुनिश्चित करने के लिए अपने पावर में सबकुछ दिया। कि वो अपनी क्षमता पूरी कर सके। जब एक कोच ने मुझे बताया कि आपके बेटे में प्रतिभा है, लेकिन वो रास्ते से ध्यान हटा चुका है, तो मैं थोड़ा चिंतित हो गया। मुझे लगा कि वो या तो प्यार में पड़ गया है या गलत भीड़ में मिल गया है।

अय्यर को समझाने की बजाए ले गया मनोचिकित्सक के पास

श्रेयस अय्यर के बारे में ये जानने के बाद उनके पिता ने अपने बेटे अय्यर पर प्रैक्टिस करने का दबाव नहीं डाला और ना ही बार-बार जिद की बल्कि उन्होंने अलग तरीका अपनाते हुए श्रेयस अय्यर को एक मनोवैज्ञानिक के पास ले गए।

अंडर-16 के दौरान श्रेयस अय्यर के पिता को लगा हो गया है उनका ब्रेकअप, फिर निकाला ये तरीका 3

संतोष अय्यर ने इसके बाद आगे कहा कि

आखिरकार उसने मुझे बताया कि मैं कुछ नहीं करने के लिए चिंता कर रहा था। अधिकांश क्रिकेटरों की तरह अय्यर बस किसी ना किसी पैच से गुजर रहा था। निश्चित रूप से ये पर्याप्त था फिर उन्होंने जल्द ही अपनी फॉर्म को हासिल कर लिया और फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।”

Related posts