ravindra jadejajadeja

कैनबरा में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टी20 सीरीज़ के पहले ही मैच में भारतीय टीम को रविंद्र जडेजा की चोट की बुरी ख़बर मिली है. वाकया उस समय का है जब बल्लेबाज़ी के दौरान रविंद्र जडेजा के पैर की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया. इस चोट के बाद रविंद्र जडेजा को चलने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. हालांकि मैच में तो युजवेंद्र चहल को जडेजा की जगह पर बुला लिया गया. लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ़ आने वाली महत्वपूर्ण टेस्ट सीरीज़ से पहले रविंद्र जडेजा की ये चोट भारतीय टीम के लिए चिंता का सबब बन सकती है.

टी20 में वन-डे का शानदार प्रदर्शन जारी

रविंद्र जडेजा लगी चोट

कैनबरा में भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए वन-डे सीरीज़ के तीसरे और आखिरी मैच में जडेजा ने 50 गेंदों पर 66 रनों की शानदार पारी खेली थी. इसके अलावा हार्दिक पांड्या के साथ 160 रन की साझेदारी कर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई.

टी20 सीरीज़ के पहले मैच में रविंद्र जडेजा ने अपनी शानदार फ़ॉर्म  को वहीं से जारी किया जहां उन्होंने तीसरे वन-डे में छोड़ा था. पहले टी20 में भी भारत एक समय 5 विकेट जल्दी गंवा कर संकट में नज़र आ रहा था. ऐसे समय में रविंद्र जडेजा ने 23 गेंदों में 5 चौकों ओर 1 छक्के के साथ 44 रनों की शानदार पारी खेल कर भारतीय टीम का स्कोर 160 तक पहुंचाने में एक बड़ा रोल अदा किया.

रिप्लेसमेंट को लेकर हुआ विवाद

जीत के बाद भारतीय टीम को अब आई बड़ी मुश्किल, चोटिल रविन्द्र जडेजा हो सकते हैं टी20 से बाहर 1

रविंद्र जडेजा के चोटिल होने के बाद मैच के दौरान एक विवाद भी हुआ. बात उस वक़्त की है जब जडेजा की जगह युजवेंद्र चहल को मैदान पर बुला कर उन से गेंदबाज़ी कराई गई. इस वाक़ये के दौरान ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने मैच रेफ़री डेविड बून के सामने मैदान पर ही अपना विरोध दर्ज कराया.

ऑस्ट्रेलियाई टीम का सवाल मैच रेफ़री से सवाल ये था कि अगर युजवेंद्र चहल को जडेजा के रिप्लेसमेंट के तौर पर उतारा भी है तो उनसे सिर्फ़ फ़ील्डिंग ही कराई जाए, वो गेंदबाज़ी कराने का क्या मतलब है? युजवेंद्र चहल को गेंदबाज़ी क्यों दी गई, ये भी क्रिकेट प्रशंसकों के बीच विमर्श  का एक ताज़ा विषय बन चुका है.

क्या जडेजा की चोट भारतीय टीम के लिए खतरे का संकेत?

ravindra jadejajadeja

शानदार फ़ॉर्म में नज़र आ रहे रविंद्र जडेजा की चोट के बाद एक सवाल ये भी उठने लगा है कि आने वाले समय में भारतीय टीम के लिए ये कितना बड़ा नुकसान हो सकता है. टी20 सीरीज़ के भी अभी दो मैच बाकी हैं. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ़ होने वाली चार मैचों की अहम और बड़ी बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफ़ी में भी जडेजा का योगदान एक महत्वपूर्ण फ़ैक्टर साबित होने वाला है.

अब देखना ये है कि जडेजा बचे हुए दो टी20 मैचों के लिए और टेस्ट सीरीज़ के लिए फ़िट हो पाते हैं या नहीं. अगर जडेजा फ़िट नहीं हुए टेस्ट में विराट की गैरमौजूदगी के बाद भारतीय टीम के लिए ये दूसरा बड़ा झटका होगा.