जैक कैलिस बने साऊथ आफ्रिका के बल्लेबाजी सलाहकार

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

कोलकाता नाईट राइडर्स के बल्लेबाजी सलाहकार रहे जैक कैलिस को अब इस टीम ने सौंपी ये जिम्मेदारी 

कोलकाता नाईट राइडर्स के बल्लेबाजी सलाहकार रहे जैक कैलिस को अब इस टीम ने सौंपी ये जिम्मेदारी

साउथ अफ्रीका के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर जैक कैलिस को आज साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम का बल्लेबाजी सलाहकार नियुक्त किया गया है. जैक कैलिस के टीम से जुड़ने पर साउथ अफ्रीका टीम को मजबूती भी मिलेगी. पिछले कुछ समय से साउथ अफ्रीकन टीम का प्रदर्शन लगातार गिर रहा है.

अगले साल टी20 वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए कैलिस को इस पद के लिए चुना गया. कैलिस को बल्लेबाजी सलाहकार के रूप में तो देखा ही जाएगा, किन्तु वह अपनी गेंदबाजी स्किल्स को भी साझा करते नजर आएंगे.

जैक कैलिस के अलावा ग्रेम स्मिथ तथा मार्क बाउचर भी हैं टीम मैनेजमेंट में शामिल

कोलकाता नाईट राइडर्स के बल्लेबाजी सलाहकार रहे जैक कैलिस को अब इस टीम ने सौंपी ये जिम्मेदारी 1

 

हाल ही में ग्रेम स्मिथ साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड के कार्यवाहक क्रिकेट निदेशक बने हैं. बोर्ड में उनके आने से बाद टीम का कायाकल्प करने की कोशिश की जा रही है. इसी कड़ी में मार्क बाउचर को टीम का अंतरिम कोच भी बनाया गया.

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने ट्विटर पर कहा, ‘दक्षिण अफ्रीका के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी जैक कैलिस को टीम का बल्लेबाजी सलाहकार बनाया गया है. वह बुधवार से टीम से जुड़ेंगे.’

यह है साऊथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड का वह ट्वीट

जैक कैलिस का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर

कोलकाता नाईट राइडर्स के बल्लेबाजी सलाहकार रहे जैक कैलिस को अब इस टीम ने सौंपी ये जिम्मेदारी 2

जैक कैलिस ने सभी प्रारूपों में 519 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलकर 25534 रन बनाए हैं और 577 विकेट लिए हैं. उन्होंने 166 टेस्ट, 328 वनडे और 25 टी20 मैच खेले हैं. पांच साल पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके कैलिस के नाम टेस्ट में 45 और वनडे में 17 शतक हैं. वह आईपीएल में केकेआर के बल्लेबाजी सलाहकार रह चुके हैं. इससे पहले टेस्ट विकेटकीपर मार्क बाउचर को पिछले सप्ताह दक्षिण अफ्रीका का मुख्य कोच बनाया गया.

जैक कैलिस ने भारत के खिलाफ लगाया था अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय टेस्ट शतक

जैक कैलिस ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को करीब 5 वर्ष पहले अलविदा कहा था. कैलिस ने 30 जुलाई 2014 को आधिकारिक रूप से अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों  से सन्यास ले लिया था. उन्होंने अपना आकरी टेस्ट मैच भर के खिलाफ डरबन में खेला था जिसमें उन्होंने अपना 45वाँ टेस्ट शतक जड़ा था.

Related posts