बर्मिंघम में उतरते हुए इतिहास रचेंगे जेम्स एंडरसन, ऐसा करने वाले बनेंगे इंग्लैंड के पहले खिलाड़ी 1

विश्व क्रिकेट में टेस्ट क्रिकेट का अपना एक खास स्थान है। टेस्ट क्रिकेट खेलना ही किसी खिलाड़ी के लिए एक नायाब उपलब्धि से कम नहीं है, ऐसे में जब टेस्ट क्रिकेट में कोई खिलाड़ी अपने देश के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने का रिकॉर्ड बना दें तो उसके लिए ये किसी सपने से कम नहीं है, ऐसा ही कुछ करने जा रहे हैं इंग्लैंड के महानतम तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन…

जेम्स एंडरसन हैं इंग्लैंड के लिए नायाब रिकॉर्ड बनाने के पास

इंग्लैंड क्रिकेट ही नहीं बल्कि क्रिकेट जगत में टेस्ट क्रिकेट के सबसे सफलतम तेज गेंदबाज के रूप में अपना स्थान दर्ज करवा चुके जेम्स एंडरसन इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलने जा रहे हैं।

जेम्स एंडरसन

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा 161 टेस्ट मैच खेले हैं। उस रिकॉर्ड की जेम्स एंडरसन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले टेस्ट मैच में बराबरी की थी। अब न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में उतरते ही एंडरसन इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट खेलने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे।

एंडरसन ने कहा कभी नहीं सोचा था टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छा

एंडरसन आज जिस मुकाम पर खड़े हैं, वो कोई खिलाड़ी सपने में भी नहीं सोच सकता, क्योंकि इतने टेस्ट मैच खेलने के लिए लगातार प्रदर्शन करना होता है और एंडरसन ने टेस्ट क्रिकेट में 616 विकेट अपने नाम कर इस बात को साबित भी किया। एंडरसन मानते हैं कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वो इस फॉर्मेट के लिए बने हैं।

बर्मिंघम में उतरते हुए इतिहास रचेंगे जेम्स एंडरसन, ऐसा करने वाले बनेंगे इंग्लैंड के पहले खिलाड़ी 2

अपने टेस्ट क्रिकेट करियर का सबसे बड़ा टेस्ट मैच खेलने जा रहे जेम्स एंडरसन ने कहा कि “ये 15 साल अभूतपूर्व रहे। ये जानना कि कुक ने जितने मुकाबले खेले हैं, उतने मैं खेल चुका हूं। ये मेरे लिए गर्व की बात है।”

पहले टेस्ट मैच में था काफी नर्वस

जेम्स एंडरसन ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत को लेकर साझा किया कि “मुझे लगता था कि मैं ज्यादा अच्छा नहीं हूं। काउंटी क्रिकेट से काफी बदलाव आया। मुझे याद है नासिर ने मेरे लिए फाइन लेग नहीं रखा था। मेरी पहली गेंद नो बॉल हुई जिसके बाद मैं नर्वस हो गया और मुझे लगा कि अभी मुझे बहुत लंबा सफर तय करना है।”

बर्मिंघम में उतरते हुए इतिहास रचेंगे जेम्स एंडरसन, ऐसा करने वाले बनेंगे इंग्लैंड के पहले खिलाड़ी 3

“मुझे सेट होने में कुछ साल लगे। मुझे लगता है कि विश्व की टॉप टीम के खिलाफ प्रदर्शन करना मायने रखता है। मैं जिम्बाब्वे का असम्मान नहीं कर रहा लेकिन दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और भारत जैसी टीम के खिलाफ आपको प्रदर्शन करना होता है। जब आप टॉप टीमों के खिलाफ प्रदर्शन करने में सफल होते हैं तब आपको लगता है कि आपका स्तर बढ़ा है।”