Jasprit Bumrah played most matches for Mumbai not India in the last two years

टीम इंडिया को अगले महीने टी20 विश्व कप 2022 (T20 World Cup 2022) खेलना है लेकिन उससे पहले ही भारत को तगड़ा झटका लगा है। दरअसल, जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) चोट की वजह से विश्व कप से बाहर हो गए हैं। बुमराह के साथ-साथ घुटने की सर्जरी से उबर रहे रवींद्र जडेजा तो पहले ही बाहर हो गए हैं। इसके साथ ही दीपक हुड्डा को लेकर भी संकेत अच्छे नहीं हैं।

गुरुवार को न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के जरिये यह जानकरी सामने आई कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) चोट की वजह से विश्व कप से बाहर हो गए हैं। उन्हें स्ट्रेस फ्रैक्चर हो गया है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि बुमराह को स्ट्रेस फ्रैक्चर है और वह महीनों तक क्रिकेट से दूर रह सकते हैं। वैसे, यहाँ गौर करने वाली बात यह है कि पिछले दो साल में बुमराह ने भारत के लिए कम टी20 मुकाबले बल्कि मुंबई इंडियंस के लिए सबसे ज्यादा मैच खेले हैं। हालांकि, यह हम नहीं कह रहे हैं, आंकड़ें इस बात की गवाही दे रहे हैं।

क्या बुमराह के अंदर है मुंबई प्रेम ?

Jasprit Bumrah Mumbai Indians

जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के पिछले दो साल के आईपीएल करियर पर नजर डालें तो उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए साल 2021 और 2022 में कुल 28 मुकाबले खेले हैं और इस दौरान उन्होंने कुल 36 विकेट चटकाए हैं जबकि टीम इंडिया की अगर हम बात करें तो उन्होंने भारत की तरफ से पिछले दो साल में कुल मात्र 10 टी20 मुकाबले ही खेले हैं।

इस दौरान उन्होंने कुल मात्र 11 विकेट ही चटकाए हैं। इन दो सालों में भारत की तरफ से खेलते हुए बुमराह या तो आराम पर रहे या चोट की वजह से टीम से बाहर हुए लेकिन मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए, यह तेज गेंदबाज ना तो कभी चोटिल हुआ और ना ही कभी आराम लिया।

स्ट्रेस फ्रैक्चर का शिकार हुए हैं बुमराह

What is stress fracture that will end Jasprit Bumrah career

गौरतलब है कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) को 2019 में पहली बार स्ट्रेस फ्रैक्चर हुआ था और अब एक बार फिर उन्हें यह चोट परेशान कर रही है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज से पहले बुमराह ने अभ्यास सेशन के दौरान पीठ में दर्द की शिकायत की थी। फिलहाल बुमराह मेडिकल टीम की निगरानी में हैं। हालांकि, यह तेज गेंदबाज जिस स्ट्रेच फ्रैक्चर से जूझ रहा है, वो आखिर बला क्या है ?

दरअसल, हड्डिया जिंदा टिश्यू होती हैं और अगर उनपर ज्यादा दबाव पड़ता है तो उन्हें नुकसान पहुँचता है। सूजन संबंधी सेल्स का बढ़ना या फिर हड्डियों में सूजन आना बोन स्ट्रेस इंजरी या स्ट्रेस रिएक्शन कहलाता हैं। इसी को कहते हैं, स्ट्रेच फ्रैक्चर। इस चोट पर हमेशा ध्यान देने की जरूरत होती है क्योंकि पहले हड्डियों में सूजन होती है और जब इसपर ध्यान नहीं दिया जाता है तो उस सूजन फ्रैक्चर में बदल जाता है। इस चोट के बारे में MRI (Magnetic resonance imaging) से पता चल सकता है। अक्सर तेज गेंदबाजों को पीठ के निचले हिस्से के वर्टेब्रे में ऐसा फ्रैक्चर होता है। रीढ़ की हड्डी को खींचने और उसे दबाने से इस हिस्से पर दबाव पड़ता है।

क्या खत्म हो जाएगा बुमराह का करियर ?

Jasprit Bumrah stress fracture

आपको बता दें कि स्ट्रेस फ्रैक्चर जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) का करियर खत्म कर सकता है। बताया जाता है कि उनके बॉलिंग एक्शन की वजह से बार-बार वो इस चोट का शिकार हो रहे हैं। हालांकि, अगर ऐसा ही चलता रहा तो बुमराह का करियर जल्द खत्म हो सकता है।

बुमराह भारत के तीनों फॉर्मेट में लीडिंग गेंदबाज हैं और ऐसा में उनका बार-बार चोटिल होना, टीम इंडिया के लिए चिंता का सबब है क्योंकि बुमराह अब तक तीसरी बार स्ट्रेस फ्रैक्चर का शिकार हो चुके हैं। इस तेज गेंदबाज को पहली बार साल 2019 में स्ट्रेस फ्रैक्चर हुआ था। इसके बाद इसी साल जुलाई में और अब सितंबर में उन्हें बैक स्ट्रेस फ्रैक्चर हुआ है जो भारत के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं।