क्रिकेट से सन्यास लेने की एक और घोषणा जोनाथन ट्राट

34 साल के ट्राट ने गत महीने ही मनोवैज्ञानिक बीमारी के इलाज के बादअंतरराष्ट्रीय टीम में अपनी शानदार वापसी की थी लेकिन अफ़सोस ये हुआ है की वह वेस्टइंडीज दौरे पर पूरी तरहफ्लॉप साबित हुये और 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के दौरान 3 पारियों मेंशून्य पर आउट होने के साथ उन्होंने सिर्फ 72 रन ही बनाये.
 
इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड से जारी बयान में ट्राट ने साफ़ साफ़ बताया , ‘ मुझे लगा की मेरी वापसी एक शानदार होगी और ये सच है की यह फैसलालेना बहुत मुश्किल था लेकिन मुझे नहीं लगता कि मैं उस स्तर का क्रिकेट  खेल पा रहा हूं जैसा खेलता आया था या जिसकी इंग्लैंड टीम को जरूरत है. पर इस बात का मुझे अंतरराष्ट्रीयक्रिकेट में वापसी करने का मौका मिला, मैं इस बात से अपने ऊपर गौरव महसूस कर रहा हु पर मैं उनकी उम्मीद पर खरा नहीं उतरा और मुझे बहुत दुख है कि मैं टीम को योगदान नहीं दे सका.’ 
     
ट्राट ने कहा, मैं अपनी टीम को बहुत शुभकामनायें देता हूं कि वह आने वालेसमय में नयी ऊंचाइयों को छुये और आगामी सभी सीरीज में जीत दर्ज करसर्वश्रेष्ठ टीम बने.’
 
इंग्लैंड के इस धाकड़ बल्लेबाज ने कहा, मैं जब से इंग्लैंड टीम में शामिलहुआ तब से मैंने अपने कॅरियर में नयी ऊंचाइयों को छुआ लेकिन कभी अपनेप्रदर्शन से नाखुश और दुखी भी रहा. हालांकि मैं अब वार्विकशायर की ओर सेखेलूंगा और उम्मीद करता हूं कि मैं वहां अपनी टीम को योगदान देने मेंकामयाब हो सकूं.’ 
तीन बार एशेज सीरीज में खेलने वाले ट्राट वर्ष 2011 में क्रिकेटर ऑफ दईयर रहे थे. उन्होंने 68 एकदविसीय मैच खेले हैं जिनमें 51.25 की औसत से 2819 रन बनाये हैं.

Related Topics