ASHES 2021-22: फैंस ने जॉनी बेयरेस्टो और बेन स्टोक्स को दी थी गाली, अब बेयरेस्टो के जवाब ने कायम की मिशाल 1

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच प्रतिष्ठित टेस्ट सीरीज एशेज सीरीज खेली जा रही है। क्रिकेट की सबसे रोमांचक टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर है, जहां दोनों ही टीमों के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जा रही है। इस टेस्ट सीरीज का सिडनी में चौथा टेस्ट मैच खेला जा रहा है।

फैंस ने बेयरेस्टो और स्टोक्स को कहे थे अपशब्द

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के फैंस के द्वारा इंग्लैंड के खिलाड़ियों को अपशब्द कहे गए। मैच के तीसरे दिन चायकाल के ब्रेक पर जब नाबाद बल्लेबाज जॉनी बेयरेस्टो और बेन स्टोक्स अपने ड्रेसिंग रूम की तरफ बढ़ रहे थे, तो उन्हें फैंस के द्वारा अपशब्द कहे गए।

ASHES 2021-22: फैंस ने जॉनी बेयरेस्टो और बेन स्टोक्स को दी थी गाली, अब बेयरेस्टो के जवाब ने कायम की मिशाल 2

इसी मामले को लेकर अब इस मैच में इंग्लैंड के लिए शतकीय पारी खेलने वाले जॉनी बेयरेस्टो ने चुप्पी तोड़ने हुए इसे लेकर काफी नाराजगी जाहिर की। तो साथ ही कहा कि इसे बदलने की जरूरत है।

ड्रेसिंग रूम की ओर लौटने के दौरान कहे थे अपशब्द

मेजबान ऑस्ट्रेलिया की टीम सीरीज में 3-0 से आगे हैं। जिन्होंने सिडनी में खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच में भी मेहमान इंग्लैंड पर दबाव बना दिया है। जहां पहली पारी के आधार पर ऑस्ट्रेलिया ने फिर से बड़ी बढ़त बनाई है।

ऑस्ट्र्लिया ने इस मैच में अपनी पहली पारी में 416 रन का स्कोर किया। जिसके बाद इंग्लैंड की टीम बल्लेबाजी करने उतरी लेकिन इंग्लैंड को ऑस्ट्रेलिया ने शुरुआती झटके देकर केवल 36 रन के स्कोर पर ही 4 विकेट हासिल कर लिए थे।

जॉनी बेयरेस्टो ने जतायी इस पर कड़ी नाराजगी

इसके बाद जॉनी बेयरेस्टो और बेन स्टोक्स ने इस स्थिति से उबारते हुए पांचवें विकेट के लिए 128 रन की साझेदारी की। इसी साझेदारी के दौरान तीसरे दिन जब ये दोनों ही बल्लेबाज टी ब्रेक के दौरान ड्रेसिंग रूम की ओर जा रहे थे, तो फैंस ने उन्हें अपशब्द कहे, जिस पर दोनों ही बल्लेबाजों ने रूककर फैंस की ओर देखा।

इस पूरे वाकये का वीडियो सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने जारी किया, जिससे इस बात की पुष्टि हो सकी। इसके बाद जॉनी बेयरेस्टो ने इस पर निराशा जाहिर करते हुए कहा कि

“ये अच्छा नहीं है और न इसकी जरूरत है। हम वहां अपना काम करने की कोशिश कर रहे हैं। लोगों को क्रिकेट का आनंद लेना चाहिए। दुर्भाग्य से कभी-कभी कुछ फैंस हदें पार कर जाते हैं। इसलिए कभी-कभी इसके लिए आवाज उठाना जरूरी हो जाता है।”