वर्नन फिलैंडर को अपशब्द कहने पर जोस बटलर ने मांगी माफी, साथ ही दिया यह सुझाव

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

वर्नन फिलैंडर को अपशब्द कहने पर जोस बटलर ने मांगी माफी, साथ ही दिया यह सुझाव 

वर्नन फिलैंडर को अपशब्द कहने पर जोस बटलर ने मांगी माफी, साथ ही दिया यह सुझाव
CAPE TOWN, SOUTH AFRICA - JANUARY 04: Vernon Philander of South Africa bats as Jos Buttler of England looks on during day 2 of the 2nd Test match between South Africa and England at Newlands Cricket Stadium on January 04, 2020 in Cape Town, South Africa. (Photo by Ashley Vlotman/Gallo Images)

इंग्लैंड की टीम दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर है। दोनों टीम के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला केपटाउन में खेला गया था। इस मैच के दौरान इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर वर्नन फिलैंडर को अपशब्द कहा था। इसके बाद आईसीसी ने 15 फीसदी फीस कटौती का जुर्माना लगाया था। बटलर द्वारा कहे गए शब्द स्टंप माइक में साफ-साफ सुनाई दे रहा था।

बटलर ने माफी मांगी

वर्नन फिलैंडर को अपशब्द कहने पर जोस बटलर ने मांगी माफी, साथ ही दिया यह सुझाव 1

इस घटना को लेकर इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने माफी मांगी है। उनका कहना है कि उन्हें पता है कि व्यवहार का यह तरीका सही नहीं है और रोल मॉडल के रुप में वह अपना कर्तव्य समझते हैं। माफी मांगते हुए इंग्लैंड के इस विकेटकीपर ने कहा

“मैं माफी माँगना चाहता हूँ, मैं समझता हूँ कि यह व्यवहार करने का तरीका नहीं है। रोल मॉडल के रूप में हमारा एक कर्तव्य है कि हम एक निश्चित तरीके से व्यवहार करें। टेस्ट क्रिकेट में कई बार बहुत अधिक भावनाएं होती हैं और यह कहा जा सकता है कि कुछ भी जरूरी नहीं है, लेकिन घर पर दर्शकों के लिए यह बहुत खराब हो सकता है। कभी-कभी यह उन चीजों में से एक है, निकल जाती हैं।”

मैदान की बात वहीं रहे

वर्नन फिलैंडर को अपशब्द कहने पर जोस बटलर ने मांगी माफी, साथ ही दिया यह सुझाव 2

जोस बटलर की बातें स्टंप माइक की वजह से सभी को सुनाई पड़ी थी। उनका मानना है कि स्टंप माइक दर्शकों को बेहतर अनुभव देता है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि मैदान की बातें मैदान तक ही रहनी चाहिए। इस बारे में उन्होंने कहा

“यह एक कठिन है, हम समझते हैं कि यह दर्शकों के अनुभव को स्टंप मिक्स के साथ जोड़ता है और सुनने में सक्षम है कि क्या चल रहा है, लेकिन हम यह भी चाहते हैं कि क्या मैदान पर क्या हो रहा है यह मैदान पर ही रहना चाहिए और जरूरी नहीं कि घर पर सभी द्वारा सुना जाए। मुझे लगता है कि यह डिबेट का मुद्दा है।”

Related posts