क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खिलाड़ियों को दिया बाहरी लीग में न खेलने की हिदायत, भड़के हेजलवुड ने जमकर निकाला गुस्सा | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खिलाड़ियों को दिया बाहरी लीग में न खेलने की हिदायत, भड़के हेजलवुड ने जमकर निकाला गुस्सा 

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खिलाड़ियों को दिया बाहरी लीग में न खेलने की हिदायत, भड़के हेजलवुड ने जमकर निकाला गुस्सा

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और खिलाड़ियों के बीच चल रही राजस्व को लेकर चल रही खींचतान लगातार जारी हैं. खिलाड़ियों ने बोर्ड को 1 जुलाई तक का समय दिया था. हालांकि अभी तक बोर्ड और खिलाड़ियों के बीच राजस्व को लेकर चल रहा विवाद खत्म नही हुआ हैं. वही ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज तेज़ गेंदबाज़ हेज़लवुड का मानना है, कि ये मुद्दा अगर जल्द ही खत्म नही हुआ तो वो खिलाड़ियों के साथ खड़े रहेंगे.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खिलाड़ियों को दिया बाहरी लीग में न खेलने की हिदायत, भड़के हेजलवुड ने जमकर निकाला गुस्सा 1

आने वाले समय के लिए तैयार हैं 

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खिलाड़ियों को दिया बाहरी लीग में न खेलने की हिदायत, भड़के हेजलवुड ने जमकर निकाला गुस्सा 2
photo credit: getty images

विराट के कोच ने बताया किसे लेनी चाहिए टीम इंडिया में अनिल कुंबले की जगह, सहवाग नही बल्कि इस दिग्गज पर जताया भरोसा

बोर्ड से मिल रहें भुगतान के बारें में बात करते हुए हेज़लवुड ने कहा, कि हम इससे पहले भी 10 साल के लिए बोर्ड से अनुबंधित हो चुके हैं. अब हमारे लिए आना वाला समय काफी ज्यादा महत्वपूर्ण हैं. ऐसे में हम आने वाले समय के लिए खुद को तैयार करना चाहते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि अगर 1 जुलाई तक कोई भी निर्णय नही निकलता हैं तो ये बेहद निराशजनक होगा. लेकिन हमे ये पहले भी कह चुके है हम जो करना चाहते है हम उसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

घरेलू खिलाड़ी है निराशाजनक 

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने खिलाड़ियों को दिया बाहरी लीग में न खेलने की हिदायत, भड़के हेजलवुड ने जमकर निकाला गुस्सा 3
photo credit: getty images

कंदम्बी श्रीकांत ने रचा इतिहास, सचिन तेंदुलकर से लेकर अमिताभ बच्चन सभी ने दी बधाई

उन्होंने आगे कहा कि अगर आप देखें तो पाएँगे कि शेफ़ील्ड शील्ड क्रिकेट के दौरान मैदान पर ज्यादा दर्शक नही होते हैं. लेकिन अगर आप बिग बैश की तरफ ध्यान देंगे तो कुछ बड़े खिलाड़ियों के जुड़ने एक बाद वहां लोग आना शुरू हो जाते हैं. ये लोग सिर्फ 6 हफ्ते के लिए आते है और फिर चले जाते हैं.  इस वजह से घरेलू खिलाड़ियों को बड़े खिलाड़ियों की वजह से उतना अटेंशन नही मिलाता जितना मिलना चाहिए. इस वजह से वो बहुत निराश महसूस करते हैं. 

बांग्लादेश के खिलाफ होने वाला दौरा खतरे में 

बोर्ड और खिलाड़ियों के बीच चल रहें विवाद की वजह से बांग्लादेश का दौरा खतरे में हैं. टीम के खिलाड़ियों ने दौरे पर जाने से मना कर दिया हैं.ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि बोर्ड कल क्या निर्णय लेता हैं.

Related posts