के श्रीकांत ने शिखर धवन के स्थान को लेकर कह डाली ये बड़ी बात

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

किसने कहा अगर मै मुख्य चयनकर्ता होता तो कभी नहीं देता शिखर धवन को टी-20 विश्व कप में मौका 

किसने कहा अगर मै मुख्य चयनकर्ता होता तो कभी नहीं देता शिखर धवन को टी-20 विश्व कप में मौका

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के लिए वेस्टइंडीज के खिलाफ चोट ने दोनों ही टी20 व वनडे सीरीज से दूर किया था। शिखर धवन को वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में चोट ने बाहर का रास्ता दिखाया था लेकिन एक बार फिर से शिखर धवन की श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में वापसी हो चुकी है।

शिखर धवन के अब टी20 स्थान को लेकर भी बढ़ रहा है खतरा

श्रीलंका के खिलाफ खेली जा रही तीन मैचों की टी20 सीरीज के लिए शिखर धवन को टीम में तो चुना गया है लेकिन अब धवन को टेस्ट क्रिकेट के बाद टी20 फॉर्मेट से भी चुका हुआ माना जा रहा है।

किसने कहा अगर मै मुख्य चयनकर्ता होता तो कभी नहीं देता शिखर धवन को टी-20 विश्व कप में मौका 1

भारत के लिए तीनों ही फॉर्मेट में स्थापित हो चुके शिखर धवन के लिए पिछले साल टेस्ट क्रिकेट से जगह खत्म हुई। जिसके बाद से उनकी टेस्ट में वापसी नहीं हो सकी। इसके बाद धवन लगातार टी20 और वनडे में खेल रहे हैं। लेकिन दूसरी तरफ उन पर भारत के स्टार बल्लेबाज केएल राहुल दबाव बना रहे हैं।

श्रीकांत ने कहा शिखर धवन का केएल राहुल से नहीं हो सकता मुकाबला

श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज में भारत के लिए सलामी बल्लेबाज के रूप में शिखर धवन और केएल राहुल को चुना गया है। लेकिन भारत के पूर्व दिग्गज सलामी बल्लेबाज कृष्णमाचारी श्रीकांत का मानना है कि श्रीलंका के खिलाफ धवन चाहे कितने भी रन क्यों ना बना डाले वो केएल राहुल से बेहतर नहीं हो सकते हैं।

शिखर धवन

के श्रीकांत ने तो दो-टूक कह डाला है कि राहुल धवन से काफी बेहतर हैं। स्टार स्पोर्ट्स तमिल के साथ बात करते हुए श्रीकांत ने अपनी बात रखते हुए कहा कि “श्रीलंका के खिलाफ रनों का कोई महत्व नहीं है। अगर मैं चयन समिति में चैयरमैन होता तो टी20 विशेव कप के लिए धवन को नहीं चुनता। उनके और राहुल के बीच कोई मुकाबला ही नहीं है।

शिखर धवन लगातार होते जा रहे हैं फ्लॉप

पिछले कुछ समय में केएल राहुल का प्रदर्शन लगातार बेहतर होता जा रहा है। भारत के लिए टेस्ट में जगह खोने के बाद केएल राहुल पर सीमित ओवर की क्रिकेट में भी दबाव बना था लेकिन उन्होंने वनडे और टी20 दोनों में ही बेहतर प्रदर्शन दिखाया है। टी20 में तो राहुल के बल्ले से पिछली 9 पारियों में 4 अर्धशतकीय पारियां निकली हैं।

किसने कहा अगर मै मुख्य चयनकर्ता होता तो कभी नहीं देता शिखर धवन को टी-20 विश्व कप में मौका 2

वहीं दूसरी तरफ बात करें शिखर धवन की तो वो लगातार फ्लॉप होते जा रहे हैं। टी20 फॉर्मेट में तो धवन लय ही नहीं हासिल कर पा रहे हैं। पहला तो वो तेजी के साथ रन नहीं जुटा पाए हैं तो दूसरी बात ये है कि वो पिछली 13 टी20 पारियों में कोई पचासा नहीं जड़ सके हैं।

 

 

Related posts