कमलेश नागरकोटी ने कहा महेंद्र सिंह धोनी की इस टिप्स से मिली मदद 1

कभी अंडर 19 क्रिकेट में अपनी गेंदबाजी का लोहा मनवाले वाले कमलेश नागरकोटी को फिटनेस की समस्या के चलते काफी जूझना पड़ा था. चोटिल होने के चलते कमलेश नागरकोटी को आईपीएल के लगातार दो सीजन में बाहर बैठना पड़ा था. कमेशल नागरकोटी ने इस समस्या से उबरने के लिए टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को धन्यवाद कहा है.

कमलेश नागरकोटी को मिला एमएस धोनी का साथ

कमलेश नागरकोटी

कमलेश नागरकोटी ने बताया कि जब वो फिटनेस से उबरने के बाद क्रिकेट में वापसी कर रहे थे, तब उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी से बात की थी. कमलेश नागरकोटी ने बताया कि धोनी भाई ने मुझे फिटनेस के टिप्स दिए जो मेरे लिए बहुत बड़ी बात थी.

तेज गेंदबाज के मुताबिक धोनी ने उनसे कहा कि वो समय के साथ-साथ बेहतर होते जाएंगे. इतना ही नहीं कमलेश नागरकोटी ने यह भी कहा कि एमएस धोनी ने उन्हें गेंदबाजी करने के भी कुछ टिप्स देते हुए कहा कि वो स्लो बाउंसर और कटर गेंद पर प्रयोग करें.

केकेआर में होकर भी दो साल बाद किया डेब्यू

कमलेश नागरकोटी

साल 2018 में अंडर-19 विश्वकप जीतने वाली टीम इंडिया के सदस्य रहे कमलेश नागरकोटी को उनके शानदार प्रदर्शन के चलते केकेआर ने 3.2 करोड़ रूपए देकर टीम में शामिल किया था. चोटिल होने के चलते उन्हें दो सीजन तक टीम से बाहर रहना पड़ा.

लंबे समय तक टीम से बाहर होने के बावजूद टीम मैनेजमेंट ने उनके प्रति अपना भरोसा कायम रखा. इसी के चलते उन्हें आईपीएल 2020 में डेब्यू करने का मौका मिला.

कमलेश नागरकोटी पहली बार तब सुर्खियों में आए थे, जब उन्होंने साल 2018 अंडर-19 विश्वकप में अपनी गति से सभी को हैरान कर दिया था. कई पूर्व दिग्गजों ने उनकी जमकर तारीफ की थी. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी उस वक्त उनकी गति से काफी प्रभावित हुए थे.