कराची के इस युवा गेंदबाज ने रचा इतिहास, बनाया विश्व रिकॉर्ड | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

कराची के इस युवा गेंदबाज ने रचा इतिहास, बनाया विश्व रिकॉर्ड 

कराची के इस युवा गेंदबाज ने रचा इतिहास, बनाया विश्व रिकॉर्ड

कराची के युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद अली ने शानदार गेंदबाजी करते हुए अपना नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज करा दिया है और सबसे कम रन खर्च करते हुए अपने नाम ऐसा नया कीर्तिमान दर्ज किया है, जो आज तक कोई भी गेंदबाज नहीं कर पाया. इस युवा गेंदबाज ने मैच के दौरान विपक्षी टीम के सभी बल्लेबाजों को आउट करने का रिकॉर्ड अपने नाम किया.

इंटर डिस्ट्रिक्ट अंडर -19 टीम के लिए खेलने वाले अली ने अपनी स्थानीय टीम के लिए गेंदबाजी करते हुए महज 12 रन देकर अपने नाम 10 विकेट कर डाले, जो आज तक वर्ल्ड रिकॉर्ड है. जोन 3 के लिए खेलने वाले अली ने यह कारनामा जोन 7 के बल्लेबाजों को आउट करते हुए किया.

यह भी पढ़े : 17 साल के इस युवा बल्लेबाज़ ने रचा इतिहास, सचिन तेंदुलकर के साथ इस अनूठी लिस्ट में हुआ शामिल

अली की इस शानदार गेंदबाजी के दम पर उनकी टीम ने पारी और 195 रनों के साथ रिकॉर्ड जीत दर्ज की. उनसे पहले एक पारी में 10 विकेट लेने वाले गेंदबाज की सूची में इंग्लैंड के गेंदबाज जेम्स चार्ल्स लेकर हैं जिन्होंने एक पारी में 10 विकेट लिए हैं, लेकिन उन्होंने मोहम्मद अली से ज्यादा रन खर्च करते हुए यह किया था.

चार्ल्स ने 1956 में एशेज के दौरान ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध दोनों पारियों को मिलाकर 19 विकेट अपने नाम किया था और इस मैच में इंग्लैंड ने एकतरफा ऑस्ट्रेलिया को पारी और 170 रनों से मात दी थी.

यह भी पढ़े : एक बार फिर मैदान पर वापसी को तैयार क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल कप्तान रिकी पोंटिंग

इन दोनों को छोड़कर एक इकलौते स्पिनर पूर्व भारतीय गेंदबाज अनिल कुंबले ने भी यह कारनामा किया है और 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ एक पारी में दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला पर 10 विकेट अपने नाम किया था. इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को 212 रनों से हराया था.

अली और इन दोनों गेंदबाजो में खास बात यह रही, कि अली ने यह कारनामा महज 9वें ओवर में ही कर डाला था, जबकि यह दोनों गेंदबाज ऐसा करने में सफल नहीं हो सके थे.

यह भी पढ़े : 140 सालों बाद क्रिकेट के इतिहास में रविन्द्र जडेजा बने ऐसा करने वाले विश्व के पहले खिलाड़ी

अली के विकेट की एक और खास बात यह रही, कि उन्होंने यह कारनामा बिना किसी फील्डर की मदद लिए ही किया और अपने 10 विकेटों में से 9 बल्लेबाजों को बोल्ड किया, जबकि एक बल्लेबाज को एलबीडबल्यू आउट किया. यह मैच टेनिस गेंद से खेला गया था.

Related posts