करीम सादिक

आज के समय में क्रिकेट समझने वाले अधिकतर लोग भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा के बल्लेबाजी को पसंद करते हैं. हालाँकि 2013 के पहले ऐसे बहुत ही कम लोग नजर आते थे. अब अफगानिस्तान के क्रिकेटर करीम सादिक ने बताया की शुरुआत में नापसंद करने के बाद वो कैसे रोहित शर्मा के बल्लेबाजी के फैन बन गये.

करीम सादिक ने बताया रोहित शर्मा को नहीं करते थे पसंद

करीम सादिक

साल 2007 में आज के दिन ही रोहित शर्मा ने भारतीय टीम के लिए अपना पर्दापण किया था. जिसके बाद वो आज के समय में बहुत बड़े खिलाड़ी बन गये हैं. हालाँकि 2007 से लेकर 2013 तक उनके करियर में बहुत ज्यादा उतार चढ़ाव भी रहा है. लेकिन 2013 के बाद से वो टीम के नियमित सदस्य बन गये और अब टीम के उपकप्तान भी हैं. अफगानिस्तान के क्रिकेटर करीम सादिक ने रोहित शर्मा के फैन बनने की वजह बताई है. क्रिकट्रैकर के साथ इन्स्टाग्राम लाइव के समय उन्होंने रोहित शर्मा की तारीफ करते हुए कहा कि

” मैंने एक शो देखा, जिसमें सचिन तेंदुलकर से एक सवाल पूछा गया था, की वर्तमान बल्लेबाजों में कौन आपके 100 शतकों के रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं. सचिन ने इसके बाद विराट कोहली और रोहित शर्मा को चुना. इस बयान से पहले, मैं रोहित शर्मा की बल्लेबाजी को पसंद नहीं करता था.”

रोहित शर्मा के बल्लेबाजी के अब फैन है करीम सादिक

करीम सादिक ने बताया कैसे शुरुआत में नापसंद करने के बाद वो बन गये रोहित शर्मा की बल्लेबाजी के फैन 1

हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित शर्मा ने जब से सलामी बल्लेबाजी किया. उसके बाद से उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा है. आज उनकी गिनती विश्व के बहुत बड़े खिलाड़ी के तौर पर होती है. करीम सादिक ने सचिन तेंदुलकर के उस बयान के बाद रोहित शर्मा के बल्लेबाजी में बदलाव देखा. जिसके बारें में उन्होंने कहा कि

” सचिन के उस बयान के बाद, रोहित को अपनी क्षमता के बारे में पता चला और तब से उनकी बल्लेबाजी में बदलाव आया. अब वह आसानी से 150+ kph गेंदबाज को भी छक्का जड़ सकते हैं. अगर कोई ऐसा बल्लेबाज है जो पारी में 20-25 छक्के लगा सकता है, तो मौजूदा स्थिति में वो रोहित शर्मा ही हैं.”

अफगानिस्तान के प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं करीम

करीम सादिक

 

आलराउंडर करीम सादिक मौजूदा समय में 36 वर्ष के हो गये हैं. अफगानिस्तान के लिए अब तक उन्होंने 25 एकदिवसीय मैच खेले हैं. जिसमें उन्होंने 22.81 के औसत से 479 रन बनाये हैं. जबकि गेंद के साथ उन्होंने 6 विकेट अपने नाम किया है. जबकि टी20 फ़ॉर्मेट में 35 मैच अब तक खेला हैं. जिसमें 15.74 के औसत से 551 रन बनाये और गेंद के साथ 13 विकेट अपने नाम किये हैं.