खराब प्रदर्शन के कारण, टीम से बाहर होंगे अजिंक्य रहाणे और यह खिलाड़ी लेगा उनकी जगह ! 1

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला शुरू हो चुकी हैं. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी का पहला मुकाबला पुणे के एमसीए के मैदान पर खेला गया. जहाँ मेहमान टीम ने मेजबान भारतीय टीम को 333 रनों के विशाल अंतर से मैच हरा दिया.

किसी को उम्मीद नहीं थी, कि टेस्ट मैचों में पिछले लम्बे समय से बेहद ही शानदार फॉर्म में चल रही भारतीय टीम इतने बुरे और एकतरफा मुकाबलें में ऑस्ट्रेलिया की टीम से हार जायेगी. GYM में अपनी पड़ोसी पार्टनर को दिल दे बैठे था यह भारतीय क्रिकेटर

पुणे में मिली बेहद ही शर्मनाक हार के बाद क्रिकेट की गलियों में आज कल सिर्फ एक ही मुद्दे पर चर्चा छिड़ी हुई हैं, कि बेंगलुरु में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच से पूर्व भारतीय टीम में कुछ जरुरी बदलाव होने चाहिए.

कई दिग्गज और पूर्व खिलाड़ियों ने साफतौर पर यह कह डाला हैं, कि बेंगलुरु टेस्ट मैच के लिए टीम में लोकल बॉय करुण नायर को टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे के स्थान पर अंतिम एकादश में जगह देनी चाहिए.

आज कल हर जगह केवल इसी बात पर जोर दिया जा रहा हैं, कि अजिंक्य रहाणे को टीम से बाहर करना चाहिए. ऐसा इसलिए कहा जा रहा हैं, क्योंकि अजिंक्य रहाणे पिछले लम्बे समय से बहुत ही खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं. यही नहीं पुणे में खेले गये पहले मुकाबलें में भी पहली और दूसरी पारी में अजिंक्य रहाणे के बल्ले से क्रमशः 13 और 18 रन ही निकलें थे. यही नहीं हाल में ही इंग्लैंड के खिलाफ वनडे श्रृंखला में भी अजिंक्य रहाणे का बल्ला खामोश ही रहा था. इंडिया ए को जीत दिलाने के बाद अजिंक्य रहाणे ने दी इंग्लैंड की टीम को खुली चुनौती

गौरतलब हैं, कि इंग्लैंड के खिलाफ मोहाली टेस्ट मैच के बाद अजिंक्य रहाणे चोटिल हो गये थे और टीम से बाहर कर दिए गये थे. मगर जब से अजिंक्य रहाणे की टीम में वापसी हुई हैं, तब से अजिंक्य रहाणे के बल्ले से रन नहीं निकल रहे हैं.

ऐसे में सभी का मानना हैं, कि बेंगलुरु टेस्ट में अजिंक्य रहाणे की जगह युवा करुण नायर को टीम में मौका देना ही चाहिए. आपकी जानकारी के लिए बता दे, कि यह वही करुण नायर हैं, जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट मैच में शानदार बल्लेबाज़ी का प्रदर्शन करते हुए 303 रनों की नाबाद पारी खेली थी.

करुण नायर प्रतिभा के धनि हैं और घरेलू क्रिकेट में उनका प्रदर्शन पिछले लम्बे समय से बेहद अच्छा चल रहा हैं. ऐसे में करुण नायर को जरुर अंतिम ग्यारह में जगह देनी चाहिए. टीम मैनेजमेंट ने दिया था हौसला तभी रचा इतिहास : करुण नायर

करुण नायर अभी युवा हैं और भारतीय टीम के लिए तीन टेस्ट मैच खेल चुके हैं, जिसमें उनके बल्ले से 320 रन निकलें हैं.

Akhil Gupta

Content Manager & Senior Writer at #Sportzwiki, An ardent cricket lover, Cricket Statistician.