MI VS SRH- सिद्धार्थ कौल और युसूफ पठान को नजरअंदाज करते हुए इन्हें दिया विलियम्सन ने इस जीत का श्रेय

kalpesh kalal / 25 April 2018

इंडियन प्रीमियर लीग के ग्यारवें सीजन में मंगलवार को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस और सनराईजर्स हैदराबाद के बीच मुकाबला हुआ। इस मैच में मुंबई इंडियंस सनराईजर्स हैदराबाद के छोटे टारगेट को भी हासिल नहीं कर सकी और 31 रनों से हार गई।

PC_BCCI

मुंबई इंडियंस ने सनराईजर्स को दिया पहले बल्लेबाजी का न्योता

इस आईपीएल में अब तक कमाल दिखाने में नाकाम रही मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ऐसे में मेजबान कप्तान के इस फैसले को स्वीकारते हुए पहले बल्लेबाजी करने उतरे। सनराईजर्स के लिए वापसी कर रहे शिखर धवन और केन विलियम्सन पारी की शुरूआत की।

118 रनों पर ढ़ेर हुई सनराईजर्स की पारी

सनराईजर्स हैदराबाद की टीम टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी। सनराईजर्स के लिए शिखर धवन की वापसी काम नहीं आयी और धवन कोई कमाल नहीं कर सके। इस खराब शुरूआत का असर सनराईजर्स हैदराबाद की टीम पर ऐसा पड़ा कि देखते ही देखते 118 रनों के स्कोर पर ही पूरी टीम पवेलियन लौट गई। सनराईजर्स की तरफ से विलियम्सन और युसुफ ने 29-29 रन बनाए।

PC_BCCI

छोटे स्कोर को भी हासिल नहीं कर सकी मुंबई इंडियंस

इस छोटे से स्कोर के जवाब में मुंबई इंडियंस की टीम बल्लेबाजी के लिए उतरी लेकिन मुंबई इंडियंस की शुरूआत भी कुछ खास नहीं रही। मुंबई इंडियंस को शुरूआत में एक के बाद एक 21 रनों के स्कोर तक तीन झटके लग गए। इसके बाद सूर्यकुमार और क्रुणाल ने पारी को संभालने की कोशिश की।

क्रुणाल के 61 रनों के स्कोर पर आउट होने के बाद मुंबई बिल्कुल भी प्रतिरोध नहीं दिखा सकी और 87 रनों पर ही ढ़ेर हो गई और मैच 31 रनों से गंवा दिया।

PC_BCCI

हमने पहले सोचा था 140 रनों का स्कोर पर्याप्त होगा

सनराईजर्स हैदराबाद के जबरदस्त अंदाज में मैच जीतने के बाद कप्तान केन विलियम्सन ने कहा कि

“साफ तौर पर ये पूरी तरह से स्पर्श सतह थी। बिना किसी संदेह हम बल्ले से कुछ ज्यादा की उम्मीद कर रहे थे। ये निर्धारित करें कि अगर हम 140 रनों का स्कोर बनाते हैं तो हमे लगता कि ये बहुत हैं। लेकिन यहां तो 120 का स्कोर भी पर्याप्त रहा। यहां मजा आया और टी-20 में चीजे जल्दी से बदलती हैं।”

PC_BCCI

टीम के सामुहिक प्रयास से मिली शानदार जीत

सभी खिलाड़ियों को इस जीत का श्रेय देते हुए कप्तान ने कहा, कि

“सबके लिए एक साथ हमारे लिए दूसरा सत्र शानदार रहा। एक बार फिर से हम अपने सामूहिक प्रदर्शन को एक साथ रखने में सक्षम रहे। हमारे लिए ये महत्वपूर्ण है कि हमारे पास गहराई है। कुछ लोगों को चोट लगी तो संतुलन के लिए बदलाव हुए लेकिन इसका सबका अच्छा हिस्सा ये रहा कि दूसरे सत्र में खिलाड़ियों ने बेहतरीन किया।” 

PC_BCCI

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आए तो प्लीज इसे लाइक और शेयर करें।