सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ इन कारणों से हारा पंजाब 1

हैदराबाद। शिखर धवन (45) और डेविड वॉर्नर (59) के अर्धशतकों के बदौलत सनराइजर्स हैदराबाद (एसआरएच) ने आईपीएल-9 के 18वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब को पांच विकेटों से प‍राजित कर दिया। एसआरएच ने टूर्नामेंट में जीत की हैट्रिक लगाई। एसआरएच की पांच मैचों में यह तीसरी जीत है तो वहीं पंजाब की चौथी हार है।

आइए जानते हैं ऐसे कारण जिनकी वजह से पंजाब को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा है।

मुरली विजय का फेल होना

किंग्स इलेवन पंजाब के सलामी बल्‍लेबाज मुरली विजय इस मैच में महज दो रन ही बना सके। तीन गेंदों में दो रन बनाकर विजय को ओझा के हाथों भवनेश्वर कुमार ने आउट कराया। इस मैच में सलामी मुरली विजय से काफी उम्मीदें थीं लेकिन वे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके। यही वजह है कि शुरुआत अच्छी न‍ मिलने की वजह से पंजाब ज्यादा रन नहीं बना सकी और मैच हार गई।

टॉस

सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर ने टॉस जीतकर पंजाब को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। किंग्स इलेवन पंजाब ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 143 रन बनाए। जवाब में एसआरएच ने 13 गेंद शेष रहते पांच विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। अगर किंग्स इलेवन पंजाब ने टॉस जीता होता तो हो सकता है कि मैच का नतीजा एकदम उलट होता लेकिन ऐसा हो नहीं सका।

लचर गेंदबाजी

सनराइजर्स हैदराबाद का पहला विकेट 90 रन के स्कोर पर गिरा। पहले विकेट के लिए हुई इस साझेदारी ने ही पंजाब के मुंह से मैच छीन लिया। इस पूरे मैच में पंजाब के गेंदबाजों ने बढि़या गेंदबाजी नहीं की। पंजाब के गेंदबाज काइल एबोट ने तो तीन ओवरों में 11.33 की इकोनॉमी से 34 रन लुटा दिए।

मध्यक्रम का लड़खड़ाना

पंजाब की शुरुआत अच्छी नहीं रही तो प्रशंसकों को लगा की शायद मध्यक्रम के बल्लेबाज टीम को संभाल लेंगे और एक अच्छा स्कोर बनाएंगे। लेकिन ऐसा हो नहीं सका और पंजाब टीम का पूरा मध्यक्रम लड़खड़ा गया। डेविड मिलर ने महज नौ रन तो वहीं ग्‍लेन मैक्‍सवेल ने एक रन बनाए। इसके अलावा भी कोई खिलाड़ी बड़ी पारी नहीं खेल सका।

मिलर की कप्तानी

किंग्स इलेवन पंजाब टीम के कप्तान डेविड मिलर की कप्तानी पर भी सवालिया निशान लगने लगे हैं। अभी तक आईपीएल नौ में से किंग्स इलेवन पंजाब ने महज एक मैच ही जीता है, और कुल पांच मैच खेल चुकी है। ऐसे में कप्तान पर सवाल उठने स्वाभाविक हैं।

I am ankur tiwari an ardent fan of cricket. I want to become a cricket writer, i always suport ms dhoni and suresh raina in every international match, but not in ipl in ipl i always chear for delhi and...