किरमानी के अनुसार ऋषभ पन्त और रिद्धिमान साहा में से इन्हें मिलना चाहिए मौका

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सैयद किरमानी के अनुसार ऋषभ पन्त और रिद्धिमान साहा में से इन्हें मिलना चाहिए दूसरे टेस्ट में मौका 

सैयद किरमानी के अनुसार ऋषभ पन्त और रिद्धिमान साहा में से इन्हें मिलना चाहिए दूसरे टेस्ट में मौका

एंटीगा में वेस्टइंडीज और भारत के बीच खेला गया पहला टेस्ट टीम इंडिया ने 318 रनों के बड़े अंतर से जीतकर अपने नाम किया. कहने को तो टीम की जीत में सभी खिलाड़ियों ने अच्छा खेल दिखाया, लेकिन पूरे टेस्ट मैच के दौरान सभी की निगाहें वनडे और टी-20 सीरीज में फ्लॉप होने वाले ऋषभ पन्त पर थी.

पहले टेस्ट मैच में भी ऋषभ पन्त ने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया. पहली पारी में उनके बल्ले से 24 और दूसरी पारी में मात्र सात रन आए. एंटीगा में ऋषभ पन्त के फ्लॉप होने के बाद अब एक बार फिर से सभी खेल प्रेमियों का ऐसा कहना है कि दूसरे टेस्ट मैच में रिद्धिमान साहा को मौका देना चाहिए.

सैयद किरमानी ने पन्त और साहा में बताई अपनी पसंद

ऋषभ पन्त

दूसरे टेस्ट मैच से पहले भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर सैयद किरमानी ने ऋषभ पन्त और रिद्धिमान साहा के बीच अपनी पसंद बताई है. सैयद किरमानी के अनुसार वेस्टइंडीज के विरुद्ध अंतिम टेस्ट में रिद्धिमान साहा को अंतिम XI का टिकेट मिलना चाहिए. पीटीआई को दिए अपने बयान में किरमानी ने कहा,

”ये अभी झूले में हैं. पन्त भगवान की देन है, लेकिन उन्हें अभी भी काफी कुछ सीखने की जरूरत है. विकेटकीपिंग क्रिकेट के खेल का सबसे मुश्किल काम है. हर कोई सिर्फ दस्ताने पहनने से विकेटकीपर नहीं बन सकता.

साहा के साथ जरुर कुछ इंजरी की समस्या रही है, लेकिन मेरे हिसाब से उनको बराबर का मौका मिलना चाहिए. अगर आप उनको मौका नहीं देते है, तो उनको टीम में रखने का क्या मतलब.”

दूसरा टेस्ट खेलने के हक़दार हैं साहा

ऋषभ पन्त

पिछले साल दक्षिण अफ्रीका दौरे पर रिद्धिमान साहा चोटिल हो गये थे, उसके बाद आईपीएल 11 के दौरान भी उनके अंगूठे में चोट लग गयी थी, जिसके चलते साहा ना इंग्लैंड का दौरा कर सके और ना ही ऑस्ट्रेलिया का. भारत के लिए 88 टेस्ट खेलने वाले सैयद किरमानी ने आगे अपने बयान में कहा,

”हमको सिर्फ प्रदर्शन के आधार पर निर्णय लेना चाहिए. घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के बाद ही रिद्धिमान साहा ने भारतीय टीम में जगह बनाई थी. इस तस्वीर के बाहर आप देखे तो कभी उनके स्थान पर दिनेश कार्तिक को खिलाया गया तो कभी ऋषभ पन्त को. अब हमें यह देखने की जरूरत है, कि मैदान पर कौन बेहतर बल्लेबाजी के साथ साथ विकेटकीपिंग भी कर सकता है.”

रिद्धिमान साहा ने टीम इंडिया के लिए 32 मैच खेले है और इस दौरान उन्होंने 30.63 की औसत के साथ 1164 रन बनाये है. बतौर विकेटकीपर उनके नाम 75 कैच और 10 स्टंपिंग भी दर्ज है.

वेस्टइंडीज और भारत के बीच अंतिम टेस्ट मैच शुक्रवार, 30 अगस्त से किंग्सटन सबिना पार्क के मैदान पर खेला जाएंगा.

Related posts