केएल राहुल ने खोला राज, कैसे नंबर 5 पर रहे सफल और टीम के लिए दिया योगदान

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

केएल राहुल ने खोला राज, कैसे नंबर 5 पर रहे सफल और टीम के लिए दिया योगदान 

केएल राहुल ने खोला राज, कैसे नंबर 5 पर रहे सफल और टीम के लिए दिया योगदान

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज का दूसरा मुकाबला राजकोट में खेला गया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 340 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया की टीम अंतिम ओवर में 304 रन पर ऑल आउट हो गई। भारत ने मैच को 36 रनों से अपने नाम कर सीरीज में 1-1 की बराबरी हासिल कर ली है।

केएल राहुल की विस्फोटक बल्लेबाजी

केएल राहुल ने खोला राज, कैसे नंबर 5 पर रहे सफल और टीम के लिए दिया योगदान 1

भारतीय टीम के लिए इस मुकाबले में केएल राहुल ने शानदार बल्लेबाजी की। नंबर 5 पर बल्लेबाजी करने आए राहुल ने 52 गेंदों पर 80 रनों की पारी खेली। इस पारी और नए बल्लेबाजी क्रम के बारे में उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेस में कहा

“अंतिम कुछ महीने अच्छे रहे हैं और हर मैच में नया रोल सभी को नहीं मिल पाता। मैं इसका आनंद ले रहा हूं। अंतिम 10 ओवर में विकेट गिरते ही हैं। विराट और मनीष के आउट होने के बाद भी हमने प्लान नहीं बदला और जडेजा से साथ रन बनाना जारी रखा।”

मिडिल ऑर्डर में खेलने का लिए क्या किया?

केएल राहुल ने खोला राज, कैसे नंबर 5 पर रहे सफल और टीम के लिए दिया योगदान 2

केएल राहुल मूल रुप से सलामी बल्लेबाज हैं लेकिन पिछले 2 मैच में वह मिडिल ऑर्डर में खेल रहे हैं। इस बारे में सवाल किए जाने के बाद उन्होंने बताया कि वह उन्होंने मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों का काफी वीडियो देखा है

“मैंने टेक्निक में कुछ बदलाव नहीं किया। मैंने मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों से काफी बात की। विराट से काफी बात की और मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाजों का वीडियो देखा। कैसी पारी बनाना है, इसे जानने के लिए एबी और स्मिथ का वीडियो देखा। केन विलियमसन ऐसे हैं, जिनके वीडियो को मैंने पीछे जाकर देखा।”

बुमराह के खिलाफ कीपिंग का अनुभव?

केएल राहुल ने खोला राज, कैसे नंबर 5 पर रहे सफल और टीम के लिए दिया योगदान 3

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की गिनती दुनिया के सबसे बेहतरीन गेंदबाज में की जाती है। केएल राहुल से उनकी गेंदबाजी के खिलाफ कीपिंग करने का अनुभव पूछा गया। इसपर उन्होंने कहा

“जब भी मैं आईपीएल में उनके खिलाफ बल्लेबाजी करता हूं तो लगता है कि उन्होंने खिलाफ सबसे अच्छा स्थान विकेट के पीछे है। अब मैंने कीपिंग की है और यह काफी मुश्किल है। गेंद दोनों तरफ स्विंग होती है और जो ज्यादा कीपिंग नहीं करता है, उनके खिलाफ कीपिंग करना बुरे सपने की तरह होता है।”

Related posts