लांस क्लून्जर

30 मई शुरू हो कार 14 जुलाई तक इंग्लैंड और वेल्स में चलने वाले विश्व कप 2019 के लिए इस बार टूर्नामेंट में दस टीमें यह खिताब जीतने उतरेगी. इस बार पांच ऐसी टीमें हैं जो की इस बार बार की विश्व कप विजेता बनने की दावेदार है. वह हैं मेजबान इंग्लैंड, भारत, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान औ दक्षिण अफ्रीका. इससे पहले भारत दो बार यह खिताब अपने नाम कर चुका है. बात अगर दक्षिण अफ्रीका की हो तो वह अभी तक कभी भी विश्व कप विजेता नहीं बन पाया.

क्यों दिया गया दक्षिण अफ्रीका को चोकर्स का तमगा

लांस क्लून्जर

विश्व कप में दमदार प्रदर्शन करने के बावजूद भी आज तक के विश्व कप इतिहास में दक्षिण अफ्रीका ने कभी भी यह खिताब अपने नाम नहीं किया.  चार बार सेमीफाइनल में पहुंची टीम आज तक इससे आगे नहीं बढ़ी. नॉक आउट में हारकर बाहर होने की वजह से ही टीम को चोकर्स बुलाया जाता है. जोकि दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर लांस क्लून्जर को सही नहीं लगता. उन्हें लगता है कि उनकी टीम को इस नाम से नवाजना सही नहीं है.

भारत और ऑस्ट्रेलिया के लिए की क्या मानना है क्लून्जर का

लांस क्लून्जर

 

भारत और ऑस्ट्रेलिया भी करीबी मुकाबलों में कई बार हारती हैं, लेकिन कोई भी उनको चोकर्स नहीं बुलाता. तो फिर दक्षिण अफ्रीका को भी चोकर्स का टैग देना एकदम भी सही नहीं है. उनके हिसाब से किसी भी टीम को ऐसा टैग देना मूर्खतापूर्ण है. क्लून्जर ने कहा की वैसे दक्षिण अफ्रीका को यह टैग मीडिया ने दिया है. उन के ऊपर से यह टैग तब ही हटेगा जब उनकी टीम आईसीसी जैसा कोई बड़ा टूर्नामेंट जीत के दिखाएगी.

दक्षिण अफ्रीका को 'चोकर्स' कहने वालों पर भड़के लॉस क्लूजनर, कहा ये 4 टीम खेलेंगी सेमीफाइनल 1

क्लून्जर के अनुसार यह टीमें खेलेंगी सेमीफाइनल

 

दक्षिण अफ्रीका को 'चोकर्स' कहने वालों पर भड़के लॉस क्लूजनर, कहा ये 4 टीम खेलेंगी सेमीफाइनल 2

हिन्दुस्तान टाइम्स से बातचीत में ऑलराउंडर ने कहा की उनके अनुसार  ”इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, भारत और मैं अपने दिल की सुनते हुए कहना चाहूंगा दक्षिण अफ्रीका’ यह टीमें सेमीफाइनल खेलते नजर आ सकती हैं. इसके बाद उन्होंने कहा इनके अलावा कुछ और भी बेहद खतरनाक टीमें हैं, जैसे न्यूजीलैंड और पाकिस्तान.”

अफ़ग़ानिस्तान के लिए क्लून्जर ने कहा कि इस टीम को हल्के में नहीं लेना चाहिए.

उन्होंने कहा

”आप अफगानिस्तान की टीम को नहीं भूल सकते हैं, जिनके पास मेरे हिसाब से टूर्नामेंट का सबसे शानदार और बेहतरीन अटैक है। वो भी काफी खतरनाक हैं। मैं यह नहीं कहता कि वह सेमीफाइनल तक पहुंच जाएंगे, लेकिन इनके खिलाफ मुकाबले आसान नहीं होने वाले हैं। तो मैं इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, भारत के बाद दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और पाकिस्तान को चुनता हूं।”

दक्षिण अफ्रीका टीम का आने वाला समय

गुरुवार को दक्षिण अफ्रीका अपना पहला मुकाबला मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ खेलेगी.  इसके बाद 2 जून को उसका सामना बांग्लादेश के साथ होगा और फिर उसके बाद 5 जून को उसका मुकाबला होगा भारतीय टीम से इस बार का टूर्नामेंट राउंड रॉबिन फॉर्मेट पर खेला जाएगा जिसमे की सब टीमों को सभी टीमों से इस खिताब को जीतने के लिए भिड़ना होगा.