सचिन तेंदुलकर और महेंद्र सिंह धोनी के बीच है ये अजीबसंयोग, बहुत ही कम लोगों को है पता 1

भारतीय क्रिकेट टीम के दो सबसे बड़े खिलाड़ी एक द लीजेंड सचिन तेंदुलकर तो दूसरे महेन्द्र सिंह धोनी। भारत के इन दोनों ही खिलाड़ियों ने भारतीय क्रिकेट के लिए अभूतपूर्व योगदान दिया है। सचिन तेंदुलकर ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की तो वहीं महेन्द्र सिंह धोनी भी उनके काम यानि कप्तानी में कमाल के निकले।

भारत के दो दिग्गज खिलाड़ी रहे हैं सचिन तेंदुलकर और महेन्द्र सिंह धोनी

सचिन तेंदुलकर और महेन्द्र सिंह धोनी ने भारतीय क्रिकेट में अपनी भूमिका के हिसाब से काफी आगे ले गए हैं। एक ने जहां बल्लेबाजी से भारतीय क्रिकेट की बल्लेबाजी का लोहा मनवाया तो दूसरे ने अपनी कप्तानी से भारत को खास पहचान दिलायी।

सचिन तेंदुलकर और महेंद्र सिंह धोनी के बीच है ये अजीबसंयोग, बहुत ही कम लोगों को है पता 2

सचिन तेंदुलकर और महेन्द्र सिंह धोनी बिना किसी शक और सवाल के ना केवल भारत के बल्कि क्रिकेट जगत के सबसे महान खिलाड़ियों में से आते हैं। इन दोनों ही खिलाड़ियों ने कमाल का प्रदर्शन किया है।

धोनी और सचिन के इस संयोग से होंगे आप अनजान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने भी अपने वनडे करियर में 10 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं तो सचिन तेंदुलकर ने तो वनडे क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है। इन दोनों बल्लेबाजों की बल्लेबाजी में वैसे तो काफी भिन्नता है लेकिन इन दोनों के बीच एक ऐसा संयोग जुड़ा है जो शायद ही आप जानते होंगे।

सचिन तेंदुलकर और महेंद्र सिंह धोनी के बीच है ये अजीबसंयोग, बहुत ही कम लोगों को है पता 3

वनडे क्रिकेट का ये संयोग सचिन और धोनी के बीच 7 हजार रन के आंकड़े को लेकर है। धोनी और सचिन दोनों ने ही अपनी 189वीं वनडे पारी में 7 हजार रन के आंकड़े को छुआ है। ये वाकई में काफी बड़ा संयोग है, लेकिन क्रिकेट जगत में काफी कम फैंस ही इस बात को जानते होंगे। सचिन ने जहां 7 हजार वनडे रन अपनी 189वीं पारी में श्रीलंका के खिलाफ पूरे किए तो वहीं धोनी ने 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ द्विपक्षीय सीरीज के दौरान इतनी ही पारी में पूरे किए।

सचिन तेंदुलकर ने बल्लेबाजी में स्थापित किया है कीर्तिमान

सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट जगत का रिकॉर्ड पुरुष कहा जाता है। इनके नाम क्रिकेट के अनगिनत रिकॉर्ड हैं। सचिन ने सबसे ज्यादा शतक जड़े हैं। वनडे क्रिकेट में सचिन सबसे ज्यादा रन, सबसे ज्यादा मैच और सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले बल्लेबाज हैं तो साथ ही वनडे क्रिकेट का पहला दोहरा शतक भी सचिन के बल्ले से ही निकला है।

सचिन तेंदुलकर

महेन्द्र सिंह धोनी ने कप्तानी से अपने कौशल का मनवाया लोहा

वहीं महेन्द्र सिंह धोनी बल्लेबाजी के साथ ही अपनी कप्तानी में काफी ज्यादा सफल रहे हैं। धोनी ने भारत के सबसे सफलतम वनडे कप्तान बनने का सौभाग्य हासिल किया। धोनी की कप्तानी में ही भारत ने 2011 में विश्व कप का खिताब अपने नाम किया था तो 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी को जीतने में सफलता हासिल की।

धोनी