विराट की तुलना कभी सचिन से की ही नहीं जा सकती, ये है मुख्य कारण

SAGAR MHATRE / 30 April 2015

यहाँ हम दिखा रहे है पांच ऐसी चीजे जो विराट को सचिन के आस पास भी नहीं रखती.

1. आज के वनडे क्रिकेट में कोई भी बल्लेबाज आसानी से रन बना सकता है और इसकी वजह है नये नियम. पांच फिल्डर 30 यार्ड के अंदर होना, दों नयी गेंदे हो या फिर बडे बल्ले, और उसके साथ टी ट्वेंटी क्रिकेट आने से वनडे क्रिकेट एक जोक बन गया है. और अकरम, वकार, एम्बरोस जैसे गेंदबाज भी नहीं है कभी कभी तो स्टेन जैसा गेंदबाज भी इतना पिटता है की ऐसे नियम पर शर्म आती है.

2. 2000 के जमाने में 300 रन मतलब बहुत बडा लक्ष्य होता था. और अब हर मैच में 300 रन बन रहे है और उसे हर टीम आसानी से चेस भी कर जाती है. अब 400 रन भी बहुत बार बन चुके है. इसीलिए सचिन महान है. याद है 1996 विश्व कप का सेमीफाइनल जब सचिन के आऊट होने के बाद क्या हाल हुआ था भारतीय टीम का और पाकिस्तान के 1999 में भी आपको याद होगा की क्या हुआ था.

3. सचिन के शतक कैसे जगह पर आऐ है ये भी आपको देखना होगा और किस गेंदबाजी के खिलाफ उन्होंने वो रन किए है ये भी देखना होगा और फिर सचिन की तुलना किसी दुसरे के साथ आप कर सकते हो.

4. सचिन के सौ हमेशा बडी टीमों के खिलाफ ही आऐ है जैसे पाकिस्तान, आस्ट्रेलिया, अफ्रिका जिनकी उस जमाने ऐसी गेंदबाजी थी जो आज का कोई भी बल्लेबाज ना खेल पाऐ.

5. सिर्फ बल्लेबाजी ही नहीं बल्कि गेंदबाजी में भी उन्होंने काफी मैच जिताए है. 1994 हिरो कप का उनका आखिरी ओवर तो सबको याद होगा ही. उन्हें हमेशा कठिन परिस्थियों में जब भी गेंदबाजी दी है, तब उन्होंने विकेट लिया है और इसीलिए वे महान है.

Related Topics