भारतीय "द वाल" राहुल द्रविड़ को गिराने के लिए विराट कोहली ने चली ये "विराट चाल" | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

भारतीय “द वाल” राहुल द्रविड़ को गिराने के लिए विराट कोहली ने चली ये “विराट चाल” 

भारतीय “द वाल” राहुल द्रविड़ को गिराने के लिए विराट कोहली ने चली ये “विराट चाल”

आईसीसी टी-20 विश्वकप 2016 में सेमीफाइनल में हार के साथ भारतीय टीम डायरेक्टर रवि शास्त्री का कांट्रेक्ट खत्म हो गया था, उसके बाद भारतीय टीम के खिलाड़ी अपनी-अपनी आईपीएल टीम के साथ व्यस्त हो गये थे. इसलिए टीम को किसी कोच की जरूरत नहीं थी, और यही कारण है कि बीसीसीआई ने इन 2 महीने के लिए कोच की सैलरी बचाने का फैसला किया.

भारतीय कोच का चुनाव वीवीएस लक्ष्मण, सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की 3 सदस्यी टीम को दी गयी है, इस टीम को जून में होने वाले ज़िम्बाब्वे दौरे के पहले भारतीय कोच नियुक्त करना है.

भारतीय कोच के सबसे प्रबल दावेदारों में राहुल द्रविड़ है, राहुल द्रविड़ को बीसीसीआई भी यह जिम्मेदारी देना चाहती है, नवजोत सिंह सिद्धू सहित अन्य पूर्व भारतीय खिलाड़ी भी राहुल को भारतीय कोच बनाना चाहते है.

इन सबसे इतर भारतीय  टेस्ट कप्तान और सिमित ओवरों के उपकप्तान विराट कोहली की अपनी एक अलग राय है, कोहली राहुल द्रविड़ को कोच बनाने के पक्ष में बिलकुल भी नहीं है, कोहली भारतीय कोच पद के लिए अपनी आईपीएल टीम रॉयल चैलेंजर बैंगलौर के कोच डेनियल विटोरी को कोच बनाना चाहते है. कोहली ने इसके लिए विटोरी से कुछ समय पहले बात भी किया था, लेकिन कुछ निजी सूत्रों की वजह से यह खबर मीडिया के सामने आ गयी, और जब मीडिया ने कोहली से इस बारे में पूछा तो कोहली ने गुस्से में कहा, “हाँ मैंने बात किया, इसके लिए हमने कई और लोगों से बात किया है, अब हम इस बारे में आपके खुलासे का इंतजार कर रहे है.”

हालाँकि कोहली ने भारतीय टीम के कोच बनने के लिए किन अन्य 4 लोगों से बात किया उनके नामो की खुलासा नहीं किया.

कोहली ने कहा, “डेनियल विटोरी काफी अच्छे कोच है, उनके निगरानी में मेरे प्रदर्शन में काफी सुधार हुआ है.”

वहीं कुछ दिन पहले एक इंटरव्यू में विटोरी ने भी कहा था, कि “कोहली काफी अच्छे इन्सान है, मैंने पिछले कुछ सालों में उनके बारे में जाना है.”

खैर भारतीय कोच का का चुनाव सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और लक्ष्मण को करना है, और इन खिलाड़ियों की कोच के रूप में पहली पसंद राहुल द्रविड़ ही है, क्यूंकि राहुल द्रविड़ के निगरानी में पहले भारतीय “ए” टीम ने ऑस्ट्रेलिया को हरा त्रिकोणीय सीरीज जीता और उसके बाद अंडर-19 टीम ने लगातार जीत हासिल किया हालाँकि अंडर-19 टीम विश्वकप फाइनल में वेस्टइंडीज के हाथों हार गयी थी. और अब दिल्ली डेयर डेविल्स राहुल के निगरानी में आईपीएल का अपना अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन कर रही है.

सिर्फ विराट कोहली ही नहीं बल्कि पूर्व विवादित क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन भी भारतीय कोच बनाने के पक्ष में नहीं है, अजहरुद्दीन भी किसी विदेशी को भारतीय कोच बनाना चाहते है.

भारतीय कोच पर अंतिम फैसला आईपीएल बाद ज़िम्बाब्वे दौरे से पहले आयेगा. जिसमे राहुल द्रविड़ के भारतीय कोच बनने की सम्भावना सबसे अधिक है, लेकिन राहुल द्रविड़ भी अभी भारतीय कोच नहीं बनना चाहते है, द्रविड़ ने कहा है, कि इस अहम पद पर आसीन होने से पहले उन्हें थोड़ा सोचना पड़ेगा.

Related posts